उत्तर प्रदेशराज्य

लखनऊ: गडबड़ झाला मार्केट में प्लास्टिक की दुकान में लगी आग

  • विकराल रूप लेकर 3 दुकानों में पहुंची आग।
  • सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड की कई गाड़िया आग बुझाने में जुटी।
  • मौके पर पहुंची पुलिस ने राहगीरों स्थानियो को हटाया।
  • आग लगने के कारणों का नही लगा पता।
  • लाखो का माल जलकर हुआ खाक।
  • थाना अमीनाबाद क्षेत्र का मामला।

अमीनाबाद के गड़बड़झाला बाजार में स्थित दुकानों से बुधवार सुबह करीब छह बजे धुंआ और आग की लपटें निकलते देख लोगों ने शोर मचाना शुरू कर दिया। घटना की जानकारी आनन फानन दमकल को दी। दमकल कमिर्यों ने आधा दर्जन से अधिक गाड़ियों की मदद से करीब तीन घंटे में आग पर काबू पाया।

आग की चपेट में आने से एक प्लास्टिक की दुकान-गोदाम, दो ज्वैलरी समेत चार दुकानें जल गईं। अतिव्यस्त अमीनाबाद की गड़बड़झाला मार्केट में संजीव जैन की जैन प्लास्टिक के नाम से दुकान है। उनके पड़ोस में ही फहद की गोल्ड पैलेस के नाम से ज्वैलरी की दुकान है। बुधवार सुबह दोनों दुकानों से भीषण धुंआ और आग की लपटें निकलती देख आस पड़ोस के लोग दौड़े। उन्होंने पानी फेंककर आग पर काबू पाने का प्रयास किया और पुलिस व दमकल को सूचना दी।

देखते-देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इस बीच आग की चपेट में पड़ोस स्थित सुरेश साहू और महेश साहू की साहू पापड़ की दुकान एवं अजय अग्रवाल की जीसी ज्वैलर्स शॉप भी आग की चपेट में आकर जलने लगे। सूचना पाते ही मौके पर हजरतगंज, चौक के फायर कर्मी और सीएफओ विजय कुमार सिंह मौके पर पहुंचे। फायर कर्मियों ने वाटर मिस्ट टेंडर से आग पर काबू पाना शुरू किया। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पा लिया। इंस्पेक्टर अमीनाबाद ने बताया कि आग से कोई हताहत नहीं हुआ है। सिर्फ प्लास्टिक की दुकान-गोदाम, पापड़ की दुकान, गोल्ड पैलेस ज्वैलरी शॉप ज्यादा जली है। वहीं, जीसी ज्वैलर्स में आग से ज्यादा नुकसान नहीं हुआ।

दमघोंटू धुंए से हलकान रहे लोग, खाली कराए गए आस पास के मकान : प्लास्टिक दुकान और गोदाम में अग्निकांड के दौरान दमघोंटू धुंआ चारों तरफ फैल गया। इसलिए एहतियातन आस पड़ोस के मकान खाली कराए गए। लोगों को घरों से बाहर बुला लिया गया। जिससे धुंए के कारण उन्हें दिकक्त न हो। सीएफओ ने बताया कि प्लास्टिक आग के कारण पिघल रही थी। जिससे बहुत काला धुंआ निकल रहा था। दमकल कर्मियों को भी आग पर काबू पाने में काफी दिक्कतें हुईं।

गोदाम में ठसाठस भरा था माल नहीं थे फायर उपकरण : गोदाम में प्लास्टिक का माल ठसाठस भरा था। वहां पर कोई भी फायर उपकरण नहीं थे। गोदाम और दुकान एक ही इमारत में थी। जिससे काफी दिक्कतें हुई। होली के त्योहार के कारण दो दिन पहले ही प्लास्टिक दुकानदार ने माल भी मंगवाया था।

बिजली के पोल से आग लगने की आशंका: इंस्पेक्टर अमीनाबाद ने बताया कि गोल्ड ज्वैलरी शॉप और प्लास्टिक की दुकान के बीच में एक बिजली का खंभा है। लोगों का कहना है कि सुबह खंभे पर बंदर थे और तार हिला रहे थे। जिससे शार्ट सर्किट हुआ और आग लग गई। हालांकि आग लगने के मूल कारणों की जांच की जा रही है। 

Related Articles

Back to top button