खेल

पाकिस्तान क्रिकेट टीम की मुश्किलें बढ़ी, हैदर अली को वायरल बीमारी के चलते अस्पताल ले जाया गया

इंग्लैंड के खिलाफ लाहौर में खेले गए 6ठें टी20 में 14 गेंदों पर 18 रनों की पारी खेलने वाले हैदर अली कै ड्रेसिंग रूम में चक्कर आ गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

टी20 वर्ल्ड कप से पहले पाकिस्तान क्रिकेट टीम की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। इंग्लैंड के खिलाफ जारी टी20 सीरीज के दौरान नसीम शाह के बाद अब हैदर अली को वायरल बीमारी के चलते अस्पताल ले जाया गया है। बता दें, नसीम शाह को भी तेज बुखार के चलते अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, जहां जांच में पता चला कि उन्हें निमोनिया हुआ था। अस्पताल से छुट्टी मिलने से पहले यह तेज गेंदबाज करोना की चपेट में भी आया। ऐसे में अब हैदर अली का अस्पताल पहुंचना पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिए चिंता का विषय है।

इंग्लैंड के खिलाफ लाहौर में खेले गए 6ठें टी20 में 14 गेंदों पर 18 रनों की पारी खेलने वाले हैदर अली कै ड्रेसिंग रूम में चक्कर आ गए जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। हालांकि उनकी तबीयत पर अभी तक कोई अन्य अपडेट सामने नहीं आया है।

बात नसीम शाह की करें तो उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल गई है, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने गुरुवार को कहा था कि शाह को निमोनिया का पता चलने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। वह काफी बेहतर महसूस कर रहा है। बोर्ड से जारी प्रेस रिलीज के मुताबिक शाह टीम होटल में वापस आ गए हैं जहां वह कोविड-19 से जुड़ी सभी प्रोटोकॉल का पालन करेंगे।

नसीम शाह इंग्लैंड के खिलाफ 6ठें और 7वें टी20 से बाहर हो गए हैं, मगर खराब तबीयत के चलते हैदर अली भी बाहर होते हैं तो यह पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिए बड़ा झटका होगा।

पाकिस्तान की टीम सोमवार को न्यूजीलैंड दौरे पर रवाना होगी जहां उसे त्रिकोणीय सीरीज में भाग लेना है। इस श्रृंखला में तीसरी टीम बांग्लादेश है। पीसीबी ने यह साफ नहीं किया कि नसीम न्यूजीलैंड दौरे का हिस्सा बनेंगे या नहीं।

पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच 7 मैच की टी20 सीरीज का 6ठां मुकाबला लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में खेला गया। इस मुकाबले में मेजबानों को 8 विकेट से धूल चटाकर इंग्लिश टीम ने सीरीज में 3-3 की बराबरी कर ली है। कप्तान बाबर आजम (59 गेंदों का सामना करते हुए 7 चौकों और तीन छक्कों की मदद से 87 रन) के नाबाद अर्धशतक के दम पर पाकिस्तान ने इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 170 रनों का लक्ष्य रखा था, इस स्कोर को मेहमान टीम ने फिलिप साल्ट की तूफानी पारी के दम पर मात्र 14.3 ओवर में ही हासिल कर लिया। इंग्लैंड ने यह मैच 33 गेंदें शेष रहते जीत लिया। सीरीज का आखिरी और निर्णायक मुकाबला इसी मैदान पर 2 अक्टूबर को खेला जाना है।

Related Articles

Back to top button