कोविड अपडेटब्रेकिंगविदेश

चीन में कोरोना मामले तेजी से बढ़ रहे, सरकार की खराब नीति के चलते लोगों का गुस्सा फूटने लगा

चीन में कोरोना वायरस को लेकर हाहाकर मचा हुआ है। हालात इतने खराब हो गए हैं किसरकार के खिलाफ सोशल मीडिया पर जमकर आवाज उठाई जा रही है। इस बीच अब चीन ने कोविड के बढ़ते मामलों पर सरकार की आलोचना करने वाले एक हजार से अधिक सोशल मीडिया अकाउंट को निलंबित या बंद कर दिया है। देश के लोकप्रिय सिना वीबो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने बताया कि विशेषज्ञों, विद्वानों और चिकित्साकर्मियों पर हमलों सहित 12,854 उल्लंघनों के मामले दर्ज किए गए हैं। इसको देखते हुए चीन ने 1,120 एकाउंट्स पर अस्थायी या स्थायी तौर पर प्रतिबंध लगाए हैं।

चीन में प्रत्यक्ष आलोचना की नहीं है अनुमति

चीन में सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ने कोरोना को नियंत्रित करने के लिए लॉकडाउन, क्वारंटाइन उपायों और सामूहिक परीक्षण जैसे महत्वपूर्ण कदम उठाए थे लेकिन पिछले महीने सरकार ने काफी हद तक नियमों में ढील दे दी। जिसके बाद देश में बड़े पैमाने पर संक्रमण के नए मामले सामने आए। पार्टी प्रत्यक्ष आलोचना की अनुमति नहीं देती है और मुक्त भाषण पर भी सख्त सीमाएं लगाती है।

सभी अवैध कंटेंट को खत्म करती रहेगी कंपनी 

सिना वीबो ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि कंपनी सभी प्रकार के अवैध कंटेंट की जांच और सफाई को जारी रखेगी। इसके साथ साईट पर सभी उपयोगकर्ताओं के लिए एक सामंजस्यपूर्ण और मैत्रीपूर्ण सामुदायिक वातावरण बनाएगी। बता दें कि चीन में ओपन-एंडेड यात्रा प्रतिबंधों ने आलोचना का ध्यान केंद्रित किया है। लोगों को हफ्तों तक अपने घरों में रहना पड़ा, कभी-कभी तो उन्हें पर्याप्त भोजन या मेडिकल केयर भी नसीब नहीं हुआ। इसके अलावा लोगों का गुस्सा इस पर भी निकाल रहा है कि जो कोई भी संक्रमण के चपेट में आता है, उसे एक फील्ड अस्पताल में निगरानी के लिए रखा जाता है, जहां भीड़भाड़, खराब भोजन और स्वच्छता को लेकर आमतौर पर सवाल उठते हैं।

अमेरिका का अनुमान, अब तक चीन में 10 लाख से अधिक मौत

वैसे तो चीनी सरकार हर रोज कोरोना से संक्रमित व मौत की संख्या जारी कर करती है लेकिन आधिकारिक आंकड़े बहुत कम होते हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने रविवार को 10,681 नए मामलों की सूचना दी, जिससे देश में कुल मामलों की संख्या 482,057 हो गई। वहीं, पिछले 24 घंटों में तीन नई मौतों के साथ देश में कोविड से मरने वालों की कुल संख्या 5,267 हो गई। वहीं, अमेरिका का मानना है कि चीन में अब तक कोरोना से 10 लाख से अधिक लोगों की मौत हो गई है। वही, एक करोड़ से अधिक लोग संक्रमित हैं। संयुक्त राष्ट्र ने भी चीनी आंकड़े को लेकर चिंता जताई थी। 

अस्पताल की स्थिति बेहद खराब

इसके अलावा, हाल के मीडिया रिपोट्स में बताया गया था कि देश की राजधानी बीजिंग में अस्पतालों के हालत बेहद खराब हैं। इलाज के लिए मरीज हॉल में स्ट्रेचर पर लेटे थे। वहीं, कुछ लोग व्हीलचेयर पर बैठकर ऑक्सीजन ले रहे थे। चुइयांग्लु अस्पताल गुरुवार को नए मरीजों से भर गया। दोपहर तक सभी बेड खत्म हो गए। वहीं, एंबुलेंस और भी मरीजों को लाने में लगी रही।

Related Articles

Back to top button