राजनीति

पश्चिम बंगाल में ममता का किला ढहाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी के साथ उतरेंगे 7 महारथी

बीजेपी की रथयात्रा ने राजनैतिक सरगर्मियां तेज़ कर दी हैं. आडवाणी की रथयात्रा के बाद दूसरी बार ऐसी भव्य रथयात्रा का आयोजन किया जा रहा है. लेकिन इस बार बीजेपी ने दिल्ली, यूपी को नहीं बल्कि बंगाल को इसके लिए चुना है. इस तरह से उसने एक तीर से दो निशाने लगाने की सोची है. बीजेपी ने अब ठान लिया है कि पश्चिम बंगाल में अपनी जगह बनानी है और इसके लिए पार्टी ने इसके एढ़ी चोटी का ज़ोर  लगा दिया है.

पश्चिम बंगाल में सीपीएम के कमजोर होने के बाद तृणमूल के दूसरे सबसे बड़े विरोधी के तौर पर अब बीजेपी ही अगले लोकसभा चुनाव में सामने है. सीपीएम की हालत ख़राब होने से एक बात तो साफ़ हो गई कि अब बीजेपी को मौका मिल गया है.  इसे भुनाने के लिए अब कोई मौका नहीं छोड़ना चाहती है. इसीलिए अब बीजेपी ने यहां पर रथयात्रा का प्लान बनाया है.

पहले ये रथयात्रा 5 दिसंबर (बीरभूम के तारापीठ से), 7 दिसंबर (कूचबिहार से) और 9 दिसंबर (गंगासागर से) शुरू होने वाली थी. अब 5 दिसंबर की जगह 14 दिसंबर को बीरभूम के तारापीठ से बीजेपी की रथयात्रा निकलेगी. लेकिन कूचबिहार और गंगासागर से अपने निर्धारित दिन में ही रथयात्रा की शुरुआत होगी.

आपको बता दें कि अपने निर्धारित समय 7 दिसंबर को कूचबिहार से और 9 दिसंबर को ही गंगासागर से इस रथयात्रा की शुरुआत होगी. इस रथयात्रा को मज़बूती देने के लिए अमित शाह तो रहेंगे ही साथ अब नरेंद्र मोदी में अपनी पूरी ताकत झोंक देंगे इस रथयात्रा में जान डालने के लिए. बताया जा रहा है कि रथयात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल में 4 सभा करेंगे. ये सभा 24 दिसंबर को दुर्गापुर में, 28 दिसंबर को मालदा में, 5 जनवरी को श्रीरामपोर में और 11 जनवरी को कृष्णना नगर में अपनी सभा करेंगे.

साथ ही दिसंबर में ही बीजेपी के कई बड़े दिग्गज नेता भी पश्चिम बंगाल में अपनी मौजूदगी दर्ज करवाएंगे.

ये नेता देंगे पश्चिम बंगाल में अपनी आमद
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ आसनसोल, बांकुड़ा, झारग्राम, बर्रैकपोर हावड़ा और सिलीगुड़ी में सभा करेंगे.
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देव दुर्गापुर, घाटाल, मालदा, जलपाईगुड़ी, मथुरापुर (दक्षिण 24 परगना), और बोलपुर में सभा करेंगे.
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह  रायगंज, पुरुलिया, बसीरहाट और बनगाओं में सभा करेंगे.  
वित्त मंत्री अरुण जेटली  दमदम  में सभा करेंगे.
केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी हुगली और गार्डन रीच  में सभाएं करेंगे.
स्मृति ईरानी जादवपुर, उत्तर कोलकाता और डियमों हारबर में रैली को संबोधित करेंगी.
छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह पश्चिम मिदनापुर और झगराम में सभा करेंगे.

Related Articles

Back to top button