Uncategorized

उत्तर कोरिया से भागा सैनिक पहुंचा दक्षिण कोरिया,फिर…

 दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा है कि उत्तर कोरिया का एक सैनिक देश की सीमा को पार कर वहां पहुंच गया है. दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने बताया कि दक्षिण कोरियाई सैनिकों ने उसे सैन्य सीमा रेखा की ओर बढ़ते देख इस ओर सुरक्षित पहुंचाने में मदद की.

South Korean soldiers patrol along a barbed-wire fence, near the demilitarized zone (DMZ) which separates the two Koreas in Paju, north of Seoul April 5, 2013. North Korea’s explicit threats this week to strike the United States with nuclear weapons are rhetorical bluster, as the isolated nation does not yet have the means to make good on them, Western officials and security experts say. REUTERS/Kim Hong-Ji (SOUTH KOREA – Tags: POLITICS MILITARY) ORG XMIT: SEO203

दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि कोरिया सेनाओं ने 20 अग्रिम सुरक्षा चौकियों और एक सीमा क्षेत्र से बारूदी सुरंग हटाने का काम पूरा कर लिया है. इस क्षेत्र से 1950-53 के कोरियाई युद्ध में मारे गए सैनिकों के अवशेषों की तलाश में अब तक का पहला खोज अभियान शुरू करने की योजना है.

तनाव कम करने की कोशिश जारी…
सैनिक ने अपने देश छोड़ कर इस ओर आने का कदम ऐसे वक्त में उठाया है जब उत्तर और दक्षिण कोरिया दोनों ही आपसी तनाव को कम करने की कोशिश कर रहे है.

दोबारा जोड़ी गई रेल लाइन
दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया के बीच रेल मार्ग को दोबारा जोड़ने के संयुक्त सर्वेक्षण कार्य के लिए दक्षिणी कोरिया के इंजीनियर और अधिकारी ट्रेन से शुक्रवार को उत्तर कोरिया पहुंचे. इस साल की शुरुआत में उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन के बीच हुई महत्वपूर्ण बैठक में रेल प्रणाली से दोनों देशों को जोड़ना प्रमुख समझौतों में से एक था. पिछले एक दशक में ऐसा पहली बार हुआ है कि दक्षिण कोरिया की कोई ट्रेन उत्तर कोरिया गई हो. 

उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को लेकर लंबे समय से चले आ रहे गतिरोध को समाप्त करने के लिए अमेरिका और उत्तर कोरिया के मध्य बातचीत के बीच यह पहल की गई है. दक्षिण कोरिया के एकीकरण मंत्रालय ने कहा कि कीटनाशक दवाओं को ले जा रहे ट्रकों ने सीमा पार कर उन्हें उत्तर कोरिया के सीमावर्ती शहर केसोंग में उतार दिया. दक्षिण कोरिया के वन अधिकारियों ने भी इस बीमारी से संयुक्त रूप से निपटने के लिए उत्तर कोरिया का दौरा किया. कोरियाई प्रायद्वीप में देवदार के वृक्षों में यह आम बीमारी है.

Related Articles

Back to top button