Uncategorized

विजय माल्या के वकील अमित देसाई ने कहा कि उनके मुवक्किल देश छोड़कर भाग गये थे..

 कौन 300 बैग लेकर किसी बैठक में भाग लेने जाता है? प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बुधवार को यहां एक विशेष अदालत में विजय माल्या के वकील से यह सवाल किया. ईडी ने इस दावे को खारिज कर दिया कि शराब कारोबारी मार्च, 2016 में जिनेवा में एक कार्यक्रम में भाग लेने गए थे और भागे नहीं गए थे. 

विजय माल्या के वकील अमित देसाई ने मंगलवार को मनी लांड्रिंग रोधक कानून (पीएमएलए) से जुड़े मामलों के विशेष जज एम एस आजमी से दावा किया था कि उनके मुवक्किल गुपचुप तरीके से देश छोड़कर नहीं गए थे.  उन्होंने कहा कि वह गुपचुप तरीके से नहीं गए थे. वह स्विट्जरलैंड के जिनेवा में पहले से तय वर्ल्ड मोटर स्पोर्ट की बैठक में भाग लेने गए थे.

हालांकि, ईडी के वकील डी एन सिंह ने देसाई के दावे को गलत बताया.  उन्होंने कहा,‘उनके पास ऐसा दिखाने के लिए कुछ भी नहीं है जिससे पता चलता हो कि वह बैठक में भाग लेने भारत से बाहर गए थे. कौन बैठक में भाग लेने के लिए 300 बैग और भारी मात्रा में सामान लेकर जाता है.’

ब्रिटेन में हैं माल्या ?
विजय माल्या दो मार्च, 2016 को भारत गए थे और अब वह ब्रिटेन में हैं. लंदन की एक अदालत ने सोमवार को माल्या को भारत को सौंपने का आदेश दिया है. माल्या पर कथित रूप से 9,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी तथा मनी लांड्रिंग का मामला है. 

Related Articles

Back to top button