Uncategorized

विधानसभा का सदस्य बनने के लिए कमलनाथ इस सीट से लड़ सकते हैं चुनाव

 मध्य प्रदेश में कांग्रेस के 15 साल के सूखे का अंत करने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्य के भावी मुख्यमंत्री कमलनाथ 17 दिसंबर को शपथ लेंगे. 9 बार लोकसभा सांसद रहे कमलनाथ को पहली बार सीएम बनने के बाद अब विधानसभा सदस्य बनने के लिए उपचुनाव लड़ना होगा. ऐसे में माना जा रहा है कि कमलनाथ अपने गृह जिले छिंदवाड़ा के ही किसी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतरेंगे. बता दें कि कमलनाथ छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र से ही 9 बार सांसद रहे हैं.

छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में 7 विधानसभा सीटें आती हैं, जिनमें से तीन सीटें (अमरवाड़ा, परासिया, पान्दुर्ना) एसटी कैटगरी के लिए रिजर्व है जबकि 1 सीट (जुन्नारदेव) एससी कैटगरी के लिए रिजर्व है, शेष तीन सीटें (छिंदवाड़ा, सौंसर और चोराई) जनरल कैटगरी की हैं. 

कमलनाथ जनरल कैटगरी से ताल्लुक रखते हैं इसलिए संभव है कि वह शेष 3 सीटों में से ही किसी सीट से चुनाव लड़ें. इस बार संपन्न हुए चुनावों के नतीजों के मुताबिक छिंदवाड़ा जिले की सभी 7 सीटों पर कांग्रेस के प्रत्याशियों ने ही जीत दर्ज की है. 

सौंसर विधानसभा क्षेत्र में ही कमलनाथ का घर है और वह इसी विधानसभा क्षेत्र के मतदाता भी हैं. इस बार इस सीट से कांग्रेस के विजय रेवनाथ ने बीजेपी प्रत्याशी को 8400 से ज्यादा वोटों से हराया है.

गुरुवार (14 दिसंबर) को कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए थे. इसके बाद कमलनाथ और कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से राजभवन में मुलाकात कर राज्य में कांग्रेस की सरकार बनाने का दावा पेश किया. राज्यपाल ने कमलनाथ को सरकार बनाने के लिये आमंत्रित किया. कमलनाथ सोमवार 17 दिसंबर को दोपहर डेढ़ बजे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के पद की शपथ ग्रहण करेंगे.

Related Articles

Back to top button