जरा हटके

देश की ये जगह बन गई है पक्षियों की सुसाइड पॉइंट, आ कर लेते हैं आत्महत्या

कई जगह ऐसी होती हैं जहां लोग जा कर सुसाइड कर लेते हैं. लेकिन एक जगह ऐसी भी है जहां पर पक्षी जा कर आत्महत्या कर लेते हैं. जी हाँ, आपको यकीन नहीं होगा कि ऐसा भी होता है. लेकिन ये बात उतनी ही सच है जितनी आप सुन रहे हैं. आज हम आपको ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पक्षी जा कर अपनी जान दे रहे हैं. जानते हैं क्या है पीछे का माजरा, या कोई सुसाइड पॉइंट है जिसके कारण वो ऐसा कर रही हैं.  

यह वर्षों से सिलसिला चला आ रहा है. यहां पक्षी भी अपनी जिंदगी से हारकर आत्महत्या कर है. लेकिंन यह बातें सिर्फ आपको ही हैरान नहीं करती हैं बल्कि उन्हें भी हैरत में डाले हुए है जहां ऐसा हो रहा है. आपको बता दें, यह विदेश की घटना नहीं है. यह सब कुछ भारत में होता है. भारत के उत्तर पूर्वी राज्य असम में एक घाटी है जिसे जटिंगा वैली कहते हैं. यहां जाने पर आपको पक्षियों के आत्म हत्या करने का नजारा खुद दिख जाएगा. 

इस घाटी में हर साल हजारों प्रवासी पक्षी हर साल आकर खुदकुशी कर लेते हैं. यह सिलसिला सदियों से जारी है और पक्षी का ये रहस्य किसी को भी समझ में नहीं आ रहा है. आपको जानकर हैरानी होगी कि हर साल बड़ी संख्या में यहां पक्षी आत्महत्या कर लेते हैं. खासकर हर साल सितंबर से नवंबर महीने के बीच यहां पक्षियों की आत्महत्याएं ज्यादा होती हैं. ऐसा शाम सात से रात के दस बजे के बीच होता है. हैरत की बात ये है कि पक्षी सामूहिक आत्महत्या करते हैं. 

Related Articles

Back to top button