बिजनेस

वैष्‍णो देवी जाने वाले भक्‍तों के लिए खुशखबरी, 25 दिसंबर से शुरू होगी केबल कार

 वैष्‍णो देवी मंदिर दर्शन करने जाने वाले तार्थयात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी है. अब वहां कटरा स्थित माता वैष्‍णो के दर्शन को पहुंचने वाले तीर्थयात्रियों को जल्‍द ही केबल कार की सुविधा मिलने वाली है. माता वैष्‍णो के भवन से भैरो मंदिर के लिए 25 दिसंबर से केबल कार सुविधा की शुरुआत होने वाली है.

अभी तक भवन से भैरो घाटी जाने के लिए तीर्थयात्रियों को करीब 3.5 किमी का खड़ा रास्‍ता तय करना होता है. इस केबल कार में प्रति व्‍यक्ति खर्च 100 रुपये होगा. यह केबल कार श्री माता वैष्‍णो देवी श्राइन बोर्ड की ओर से शुरू की जा रही है, जिसे पूर्णरूप से तैयार कर लिया गया है.

श्री माता वैष्‍णो देवी श्राइन बोर्ड इस केबल कार सुविधा का उद्घाटन किसी वीवीआईपी के हाथों से कराना चाह रहा है. श्राइन बोर्ड सीईओ सिमरनदीप सिंह ने इस मुद्दे पर कहा कि बोर्ड 25 दिसंबर को श्रद्धालुओं को पैसेंजर केबल कार समर्पित करने जा रहा है. इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं. उन्‍होंने बताया कि केबल कार की यह सुविधा दिव्यांग, मरीज और बुजुर्गों के लिए होगी.

वैष्णो देवी मंदिर से भैरव घाटी करीब साढ़े तीन किलोमीटर दूर है, लेकिन यह रास्‍ता कठिन चढ़ाई वाला है. इसके चलते बुजुर्ग, दिव्‍यांग और मरीज लोग भैरो मंदिर नहीं जा पाते हैं. अब इस केबल कार सुविधा के शुरू हो जाने से इन लोगों को बड़ी आसानी होगी

ऐसा माना जाता है कि माता वैष्‍णो के दर्शन को आने वाले भक्‍त जब तक भैरो मंदिर नहीं जाते तब तक उनकी यात्रा को अधूरा माना जाता है. ऐसे में यह केबल कार लोगों के लिए बेहद खास साबित होगी. श्री माता वैष्‍णो देवी श्राइन बोर्ड ने इस केबल कार प्रोजेक्‍ट की शुरुआत 2014 में की थी. इसके निर्माण का ठेका स्विट्जरलैंड की गर्वेंता एजी और दामोदर रोपवे कंपनी को सौंपा गया था. इसकी लागत करीब 75 करोड़ रुपये है.

Related Articles

Back to top button