देश

बारिश के बाद दिल्ली-एनसीआर में बढ़ी ठंड; प्रदूषण से मिली राहत

ठंडी हवाओं के कारण जहां मैदानी इलाकों में सर्दी का सितम जारी हैं, वहीं पहाड़ी इलाकों में बर्फबारी ने लोगों के हाथ-पैर सुन्न कर रखे हैं। इस बीच दिल्ली-एनसीआर में मौसम ने करवट ले ली है। दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में रविवार तड़के से बारिश हो रही है। अब भी रुक-रुककर बारिश हो रही है, जिसने मौसम को और सर्द बना दिया है। बारिश से जहां ठंड बढ़ा दी है, वहीं दिल्ली में प्रदूषण से भी राहत मिलने के आसार हैं। दिल्‍ली के साथ ही नोएडा, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी हल्‍की बारिश हो रही है। दिल्‍ली का न्‍यूनमत तापमान 8.6 डिग्री पहुंच गया है। गुरुग्राम में तापमान दिल्‍ली से दो डिग्री कम 6 डिग्री तक पहुंच गया है। दिल्ली में सुबह 8.30 बजे तक 4.5 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई, वहीं न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री ज्यादा के साथ 8.6 डिग्री दर्ज हुआ।

इधर, नोएडा में रविवार सुबह से हो रही हल्की बारिश से न्यूनतम और अधिकतम तापमान में फेरबदल हुआ है। सुबह 4 बजे से हो रही बूंदाबांदी से जहां अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस पर पहुँच गया जो सामान्य से तीन डिग्री कम है। जबकि न्यूनतम तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो सामान्य से लगभग 1 डिग्री कम है। हल्की बारिश के साथ बर्फ़ीली हवाएं भी चल रही है, जिससे लोग अपने घरों में सुबह से दुबके नजर आए। वहीं रविवार रात को न्यूनतम तापमान करीब 6 डिग्री सेल्सिय रहा।

वहीं दूसरी तरफ लगातार एक हफ्ते से गंभीर स्थिति में रहे प्रदूषण से पूरी तरह राहत रविवार को भी नहीं मिल पाई है। हल्की बारिश के बाद प्रदूषण गंभीर श्रेणी से उतरकर बहुत खराब श्रेणी में पहुँच गया है। सेक्टर 125 स्थित एमिटी यूनिवर्सिटी में लगे प्रदूषक नियंत्रण यंत्र के अनुसार सुबह 7 बजे नोएडा का एयर क्वालिटी इंडेक्स सुबह 380 रहा। जो अभी भी सांस के रोगियों के लिए खराब है।
उधर, पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी ने लोगों का घर से निकलना मुश्किल कर दिया है। सड़के बर्फ की सफेद चादर से ढकी पड़ी हैं। कई राजमार्गों को बर्फबारी के कारण बंद करना पड़ा है। जम्मू कश्मीर, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में तो रिकॉर्ड बर्फबारी ने ठिठुरन बढ़ा दी है।

बर्फ की चादर से ढका कश्मीर, उड़ानें बाधित

जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी की वजह से शनिवार को श्रीनगर एयरपोर्ट से कोई विमान उड़ान नहीं भर सका। वहीं, 434 किलोमीटर लंबा श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग पिछले एक महीन से बंद है। यहां से बर्फ हटाने का काम अब भी जारी है। इसके अलावा कुपवाड़ा-टंगडार, कुपवाड़ा -मछेल और बांडीपुर-गुरेज मार्ग भी बंद हो रखा है। अधिकांश इलाकों में बिजली व पानी की आपूर्ति भी प्रभावित हो रही है।

हिमाचल में भी ठंड की मार
हिमाचल में भी बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा रखी है। कई इलाकों में तो पाइपलाइनों में पानी तक जम गया है, जिस कारण पानी की सप्लाई प्रभावित हो रखी है। हिमाचल का केलांग सबसे सर्द इलाका बना हुआ है, जहां तापमान शून्य से सात डिग्री सेल्सियस नीचे रिकॉर्ड किया गया है।

Related Articles

Back to top button