विदेश

हुआवेई विवाद के बीच जस्टिन ट्रूडो ने चीन में कनाडा राजदूत को हटाया

 कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने शनिवार को कहा कि उन्होंने चीन में कनाडा के राजदूत का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है. ट्रूडो ने एक बयान में कहा , ”कल रात मैंने जॉन मैकुलम से चीन में कनाडा के राजदूत पद से इस्तीफा देने को कहा और इस्तीफा मिलने पर उसे स्वीकार कर लिया.” हालांकि बयान में यह नहीं बताया गया कि यह निर्णय क्यों लिया गया. दरअसल मैकुलम चीन की कंपनी हुआवेई की मुख्य वित्तीय अधिकारी मेंग वानझोऊ के मसले पर लगातार बयान दे कर सुर्खियों में बने हुए थे.

वानझोऊ को एक दिसंबर को वैंकूवर से गिरफ्तार किया गया था और उनको अमेरिकाप्रत्यर्पित किया जा सकता है. अमेरिका ने इससे पहले कहा कि अगर कोई भी हमारे देश की सुरक्षा हितों के खिलाफ कार्य करेगा तो अमेरिका चुप नहीं बैठेगा. जब से वानझोऊ की गिरफ्तारी हुई है तब से इसका असर साफ साफ एशियाई बाजारों में देखने को मिल रहा है. शंघाई और हांगकांग के बाजारों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है. वानझोऊ पर ईरान पर लगे अमेरिकी प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप हैं. फिलहाल वह जमानत पर हैं लेकिन उनकी गिरफ्तारी ने कनाडा और चीन के बीच कूटनीतिक संकट पैदा कर दिया है.

ट्रूडो ने अपने बयान में मैकुलम की कम से कम दो दशक की सेवाओं की सराहना की. आपको बता दें बीते काफी दिनों से चीन और कनाडा के बीच हुवावेई कंपनी को लेकर लगातार विवाद की स्थिति बनी हुई है. ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि कनाडा में गिरफ्तार हुवावेई अधिकारी को जल्द ही अमेरिका को प्रत्यर्पित कर दिया जाएगा.

Related Articles

Back to top button