विदेश

ट्रेड वॉर: कई महीनों की तनातनी के बाद अमेरिका और चीन करेंगे बातचीत, दुनियाभर की निगाहें टिकी

 चीन के शीर्ष व्यापार वार्ताकार बातचीत के लिए वाशिंगटन पहुंच गए हैं. चीन के सरकारी मीडिया ने मंगलवार को यह जानकारी दी. दुनिया की दो प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं व्यापार वार्ता की तैयारी कर रही हैं, जिसपर दुनिया भर की निगाह टिकी है. चीन के उपप्रधानमंत्री ल्यू ही की अगुवाई वाला प्रतिनिधिमंडल ऐसे समय अमेरिका पहुंचा है जबकि अमेरिकी न्यायिक विभाग ने चीन की प्रमुख प्रौद्योगिकी कंपनी हुवावेई पर घेरा कसते हुए उस पर कई तरह के आरोप लगाए हैं. माना जा रहा है कि इससे दोनों देशों की वार्ता जटिल हो गई है.

दो दिन की यह बातचीत बुधवार को शुरू होगी. इस दो दिन की वार्ता के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन के उपप्रधानमंत्री के साथ बैठक भी करेंगे.

अमेरिका के तेवर अभी भी सख्त
अमेरिका के तेवर अभी भी सख्त हैं. बीते बुधवार को व्हाइट हाउस में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, “चीन दो साल के भीतर आर्थिक महाशक्ति के रूप में हमारी जगह ले लेता, लेकिन अब वह करीब भी नहीं है.” अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “चीन ने अपने ‘चाइना 2025’ कार्यक्रम को छोड़ दिया क्योंकि मुझे यह बहुत अपमानजनक लगा था. मैंने उन्हें यह बात बताई.” गौरतलब है कि अमेरिका इस समय दुनिया की शीर्षस्थ अर्थव्यवस्था है, वहीं चीन ने जापान को पीछे छोड़कर दूसरी सबसे बड़ी आर्थिक महाशक्ति की जगह ले ली है.

Related Articles

Back to top button