विदेश

पाकिस्तान में हिंदू समुदाय की पहली महिला जज बनीं सुमन बोडानी

यहां रहने वाली भारतीय मूल की सुमन बोडानी अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय की पहली महिला जज बनीं। सिविल जज की मैरिट लिस्ट में उन्होंने 54वां स्थान हासिल किया। बता दें सुमन डॉ. पवन पोदानी की बेटी हैं। वे सिंध प्रांत के शाहदादकोट के रहने वाले हैं। उनके परिवार ने इसे शानदार उपलब्धि बताया।

मात्र दो ही अल्पसंख्यक जज 

जानकारी के लिए बता दें पाकिस्तान में हिंदू समुदाय अल्पसंख्यक की श्रेणी में आता है। देश की कुल जनसंख्या में हिंदुओं की आबादी करीब दो फीसदी है। यहां मुस्लिम आबादी के बाद हिंदू दूसरे नंबर पर हैं। वही सुमन से पहले हिंदू समुदाय से पहले जज के रूप में जाने-माने जस्टिस राना भगवानदास नियुक्त हुए थे। वे 1960 से 1968 तक पाकिस्तान के चीफ जस्टिस रहे।

एक और महिला सांसद भी है अल्पसंख्यक 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इससे पहले भारतीय मूल की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी नेता कृष्णा कुमारी ने सांसद का चुनाव जीता था। वे पाकिस्तान में हिंदू समुदाय से सांसद बनने वाली पहली महिला हैं। चुनाव जीतने के बाद उन्होंने कहा था, ”मैं हमेशा दलितों के अधिकारों के लिए लड़ती रहूंगी। खासकर महिलाओं को मजबूत बनाने के लिए।” बता दें सुमन के परिवार ने इसे शानदार उपलब्धि बताया।

Related Articles

Back to top button