स्वास्थ्य

प्रेगनेंसी के दौरान ये गलतियां बन सकती हैं बेटी के बांझपन का कारण

ये बात तो सच है कि माँ के गुण बेटे बेटियों में आते ही है. इसी से उनकी पहचान होती है. लेकिन कुछ बातें ऐसी होती हैं जो बेटियों के अभिशाप भी बन जाती है. आज हम इसी के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में आपको भी नहीं पता होगा. आपको बता दें, अगर महिलांए अधिक उम्र में गर्भधारण करती हैं तो उनसे जन्‍म लेने वाली बेटियों में प्रजनन क्षमता खतरों से भरी होगी. यह इसलिए होता है क्‍योंकि उनमें महिलाओं की जैसे जैसे उम्र बढ़ती रहती है, वैसे ही उनमें बनने वाले अंडों में दोष शामिल होने लगता है.

एक रिपोर्ट के अनुसार, अंडों में बढ़ने वाला यह आनुवंशिक दोष महिला से उनकी बेटियों में पहुंच जाता है, जिससे उनके स्वयं के अंडे की गुणवत्ता कम होती है. इसी के कारण बेटियां आगे जाकर परेशानी का सामने कर सकती हैं. इसकी जानकारी एक रिसर्च से ही हुई है जिसमें ये बात सामने आई है कि अधिक उम्र में माँ बनना आपके बच्चों को ही दिक्कत दे सकता है.

रिपोर्ट ने अटलांटा में रिप्रोडक्टिव बायोलॉजी एसोसिएट्स से पीटर नैगी के हवाले से बताया, “मां की प्रजनन की उम्र बहुत ही महत्वपूर्ण है. यह जन्‍म लेनी वाली संतान और महिला के दोनों पर निर्भर करता है. अगर महिला सहीं समय में बच्‍चे को जन्‍म देती है. तो उसके स्‍वास्‍थ्‍य और जन्‍म लिये नवजात पर बौद्धक क्षमता दोनों बनी रहती है.

Related Articles

Back to top button