बिजनेस

संसदीय समिति की Twitter को फटकार, 25 फरवरी को पेश होंगे सीईओ

 संसद की एक समिति ने 25 फरवरी को ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) जैक डोर्सी को समिति के सामने पेश होने के लिए कहा है. समिति ने कंपनी के जूनियर अधिकारियों से मिलने से मना कर दिया. सूचना प्रौद्योगिकी विभाग पर संसद की स्थायी समिति के अध्यक्ष अनुराग सिंह ठाकुर ने यह जानकारी दी. ट्वीटर के मुख्य कार्यकारी को 11 फरवरी को ‘सोशल या ऑनलाइन मीडिया मंचों पर नागरिकों के अधिकारों की रक्षा’ विषय पर समिति की बैठक में उपस्थित होना था लेकिन वह उपस्थित नहीं हुए. सूत्रों के अनुसार भाजपा सांसद लाल कृष्ण आडवाणी समेत समिति के अन्य सदस्यों ने इसे गंभीरता से लिया है.

स्थानीय प्रतिनिधियों से मिलने से इनकार किया
ठाकुर ने कहा कि ट्विटर प्रमुख एवं अन्य प्रतिनिधियों को 25 फरवरी को पेश होने के लिये कहा गया है. शनिवार को ट्विटर ने एक बयान जारी कर डोर्सी के इतने कम अवधि के नोटिस पर समिति के समक्ष पेश होने में असमर्थता जताई थी. सूत्रों ने बताया कि बैठक के दौरान ट्विटर के स्थानीय कार्यालय के प्रतिनिधि समिति के समक्ष पेश होने के लिए संसद की एनेक्सी में पहुंचे थे लेकिन उन्हें बैठक में नहीं बुलाया गया.

पहले 7 फरवरी को होने वाली थी बैठक
समिति की बैठक पहले 7 फरवरी को होने वाली थी. ट्विटर सीईओ और अन्य अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिए इसे टालकर बैठक की तिथि 11 फरवरी कर दी गई थी. सूत्रों का कहना है कि सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक के प्रमुखों को भी समिति बुला सकती है. लेकिन अभी इस पर कोई अंतिम निर्णय नहीं हुआ है.

Related Articles

Back to top button