राजनीति

भारत ने कहा है कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के मुद्दे पर ठोस कार्रवाई नहीं करता है तब तक पाक से बात नहीं होगी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की तरफ से भारत से बातचीत के प्रस्ताव को भारत ने ठुकरा दिया है। भारत ने कहा है कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के मुद्दे पर ठोस कार्रवाई नहीं करता है, तब तक पाकिस्तान से बात नहीं होगी। पाकिस्तान को बातचीत का माहौल बनाना होगा। इसके साथ ही भारत ने पाकिस्तान की तरफ से युद्ध का माहौल बनाने की भी बात कही है।

भारत ने यह भी कहा है कि बालाकोट में आतंकी संगठन जै-ए-मुहम्मद के ठिकाने पर हमले के बाद पाकिस्तान की पूरी दुनिया को बरगलाने की कोशिश कर रहा है और युद्ध के हालात बनाने का काम कर रहा है। सरकारी सूत्रों का कहना है कि भारत का एकमात्र मुद्दा यह है कि पाकिस्तान उन आतंकियों और आतंकी संगठनों के खिलाफ तत्पर, निर्णायक और साफ तौर पर दिखने वाली कार्रवाई करे, जबकि पाकिस्तान की तरफ से हर कोशिश इस मुद्दे से ध्यान भटकाने वाला है।

पाकिस्तान की तरफ से बुधवार को इस्लामाबाद में दुनिया के तमाम देशों के राजनयिकों को तरह-तरह की झूठी खबरें दी गई हैं। जैसे- भारत की तरफ से मिसाइल से हमला होने वाला है। भारतीय नौ सेना के जहाज पाकिस्तान की तरफ निकल पड़े हैं और भारतीय सेना सीमा पर युद्ध शुरू कर चुकी है। पाकिस्तान की तरह से इस संदेश मिलने के बाद विदेशी राजनयिकों ने भारत से संपर्क किया और भारत ने उन्हें आश्वस्त किया कि ऐसा कुछ नहीं हो रहा है।

यही वजह है कि भारत ने पाक के पीएम इमरान खान की तरफ से भारत से वार्ता करने की आई पेशकश को लेकर कोई खास उत्साह नहीं दिखाया है। सूत्रों का कहना है कि इमरान खान को पहले बातचीत का माहौल बनाना होगा, उसके बाद ही कोई बातचीत की सूरत बनेगी। इमरान खान पिछले दो दिनों में दो बार भारत से बातचीत की पेशकश कर चुके हैं। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह मेहमूद कुरैशी की तरफ से ही यह इच्छा जताई गई है। लेकिन भारत का कहना है कि हमारा पूरा फोकस इस बात पर है कि पाकिस्तान की तरफ से सीमा पार आतंकी गतिविधियों को रोकने के लिए क्या कदम उठाया जाता है।

Related Articles

Back to top button