Uncategorized

बैंक की पूर्व सीईओ और एमडी चंदा कोचर आज भी प्रवर्तन निदेशालय (ई़डी) के समक्ष पेश हुई

 आईसीआईसीआई-वीडियोकॉन लोन मामले में बैंक की पूर्व सीईओ और एमडी चंदा कोचर आज भी प्रवर्तन निदेशालय (ई़डी) के समक्ष पेश हुई हैं। मुंबई स्थित ईडी के दफ्तर में लगातार तीसरे दिन अधिकारी उनसे पूछताछ करेंगे।

इससे पहले ईडी ने शनिवार और रविवार को भी चंदा कोचर, उनके पति दीपक कोचर और वीडियोकॉन ग्रुप के प्रोमोटर वेणुगोपाल धूत को मुंबई ऑफिस में पूछताछ के लिए बुलाया था। अधिकारियों ने बताया कि प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत सभी के बयानों को दर्ज किया गया।

ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत चंदा कोचर और वेणुगोपाल धूत के घर और दफ्तर समेत कई ठिकानों पर छापेमारी कर तलाशी ली थी।

एजेंसी ने इस महीने की शुरुआत में प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत चंदा कोचर, उनके पति दीपक कोचर, और धूत समेत अन्य लोगों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया था। इनके खिलाफ यह मामला वीडियोकॉन समूह को दिए गए 1,875 करोड़ रुपये के लोन के दौरान बरती गई कथित अनियमितता से जुड़ा हुआ है।

ईडी के अधिकारियों ने पुलिस के साथ मिलकर शुक्रवार की सुबह छापा मारा। अधिकारियों ने बताया कि वह इस मामले में और सबूतों की तलाश कर रहे हैं।

ईडी की तरफ से मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में केस दर्ज किए जाने के पहले सीबीआई ने इस मामले में शिकायत दर्ज की थी। सीबीआई ने अपनी शिकायत में चंदा कोचर, दीपक कोचर और धूत के साथ उनकी कंपनियों, वीडियोकॉन इंटरनैशनल इलेक्ट्रॉनिक्स और वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज लिमिटेड को भी शामिल किया था।

सीबीआई ने इसके अलावा धूत की बनाई गई कंपनी सुप्रीम एनर्जी और दीपक कोचर के नियंत्रण वाली कंपनी न्यूपावर रिन्यूबल्स को भी नामजद किया है।

Related Articles

Back to top button