Uncategorized

होली के अवसर पर ऐसे करें अपने दुर्भाग्य को स्वाहा

इंसान अपने जीवन में कई समस्याओं से घिरा रहता है। निजी जिंदगी की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए वह कई उपाय करता है। मान और मन्नत मांगने के साथ मंदिरों में मत्था टेकता है। पूजा-अनुष्ठान करता है और दुनिया जहान के कई उपायों में वह अपनी मुसीबतों से छुटकारा पाने का रास्ता देखता है। कुछ ऐसे ही छोट-छोटे उपाय होली पर कर आप अपनी मुश्किलों से निजात पा सकते हैं।

घर-परिवार की सुख-समृद्धि के लिए प्रज्वलित होलिका में गाय के घी में भिगोई हुई बत्ती,दो लौग, एक बताशा, पान का पत्ता और सूखे नारियल के साथ होली की 11 परिक्रमा कर सामग्री को समर्पित करना चाहिए।

होली की रात को घर के दरवाजे पर सरसों के तेल का चौमुखी दीपक लगाने ने हर प्रकार की बाधा का निवारण होता है।

यदि पैसा कहीं पर फंसा हुआ है और उसको मिलने में दिक्कत हो रही है तो 11 गोमती चक्र लेकर होली की 11 परिक्रमा करें और होली में इनका दहन कर दे। पैसा मिलने की संभावना बढ़ जाएगी।

यदि आप किसी अज्ञात भय के साये में जी रहे हैं तो सूखा नारियल काले तिल और पीली सरसों के साथ अपने सिर से सात बार उतार कर उसको होली में डाल दें।

होली की राख को घर में लाकर रखने से भी दुर्भाग्य का नाश होता है।

होली से शुरू कर 40 दिनों तक बजरंग बाण का पाठ करने से सभी मनोकामना पूर्ण होती है।

प्रज्वलित होली की सात परिक्रमा करने से अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।

राहु की वजह से आ रही परेशानियों को दूर करने के लिए एक सूखे नारियल में अलसी का तेल और गुड़ भरकर जलती हुई होली में डाल दें।

होली की राख को घर के आसपास और चारों और दरवाजों पर छिड़कने से घर में नकारात्मक ऊर्जा और शक्तियों को प्रवेश नहीं होता है।

सफलता प्राप्ति के लिए होलिका दहन स्थल पर नारियल, पान तथा सुपारी भेंट करें।

Related Articles

Back to top button