Uncategorized

नाखूनों में बदलाव इन बीमारियों का है संकेत

आपको बता दें नाखूनों का निर्माण जिस कैरटिन नाम के तत्व से होता है वह एक प्रकार का पोषक तत्व होता है। यह बालों और त्वचा में भी पाया जाता है। इसलिए जब भी शरीर में पोषक तत्वों की कमी होती है, नाखूनों का रंग-रूप बदलने लगता है। इसके अलावा भी कई तरह की समस्याएं सामने आने लगती हैं। ऐसे में इन समस्याओं को नजरअंदाज करना आपके नाखूनों की सेहत के लिए भारी पड़ सकता है।

ऐसे बिगड़ेगा नाखूनों का आकार 

जानकारी के मुताबिक कभी- कभी नाखूनों में संक्रमण की समस्या उत्पन्न हो जाती है। ऐसा संक्रमित त्वचा पर नाखूनों से खुजलाने की वजह से भी हो सकता है। इसके अलावा जो लोग ज्यादा देर तक जूते पहनने के आदी होते हैं, ऐसे लोगों के पैरों के नाखून में संक्रमण की संभावना काफी अधिक होती है। इसकी वजह से नाखून भुरभुरे हो जाते हैं। उनका आकार भी बिगड़ जाता है।

और भी है कई संकेत 

हम आपको बता दें शरीर में ऑक्सीजन की कमी की वजह से नाखूनों का रंग नीला होने लगता है। इससे बचाव के लिए जरूरी कि है कि ऐसे उपाय किए जाएं जो नाखूनों में रक्त संचार को बेहतर करें। इसके अलावा शरीर में आयरन की कमी से या फिर लीवर संबंधी कोई समस्या होने पर नाखून खोखले हो जाते हैं, तथा उनका आकार चम्मच की तरह हो जाता है। नाखूनों का रूखा होना तथा फटने लगना फंगल संक्रमण के लक्षण होते हैं।

Related Articles

Back to top button