Uncategorized

जेएनयू में लेफ्ट विंग के छात्रों का हंगामा,

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) प्रशासन के खिलाफ सात दिन से भूख हड़ताल पर बैठे छात्रों का समर्थन करने वाले विद्यार्थियों ने सोमवार देर शाम कुलपति एम जगदीश कुमार के आवास का घेराव किया। वहीं, छात्रों पर आरोप लगा है कि उन्होंने जबर्दस्ती कुलपति के आवास का घेराव किया और गेट भी तोड़ दिया।

कुलपति के आवास पर काफी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।जेएनयू छात्र संघ के पूर्व संयुक्त सचिव एवं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के नेता सौरभ शर्मा ने कुलपति आवास का घेराव करने की घटना को नक्सली हमला करार दिया। उन्होंने कहा कि छात्रों ने आवास का गेट कुलपति की मौजूदगी में तोड़ा है।कुलपति की पत्नी का भी घेराव किया। उन्होंने प्रदर्शन करने वाले छात्रों को शहरी नक्सली करार देते हुए कहा कि उन्होंने कुलपति के आवास में तोड़-फोड़ करने की कोशिश की, यह परिसर में लाल आतंकवाद का असली चेहरा है। वहीं, प्रदर्शन करने वाले छात्रों ने सौरभ शर्मा के आरोपों को गलत बताया है।आवास में घुस गए छात्र, पत्नी हो गई भयभीत : कुलपति एम जगदीश कुमार ने रात करीब नौ बजे ट्वीट कर कहा कि करीब सौ छात्र मेरे आवास में घुस गए। गेट को तोड़ दिया।

मेरी पत्नी घर में अकेली थीं और उन्हें इन छात्रों ने घर के अंदर बंद कर दिया। वह इस घटना से भयभीत हो गई हैं। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।  दिल्ली पुलिस के अनुसार सोमवार को जेएनयू के वाइस चांसलर के घर तक लेफ्ट विंग के छात्रों ने एक मार्च आयोजित किया था। छात्र उनके घर तक गए और घर में घुसने की कोशिश की लेकिन सुरक्षा स्टाफ ने उन्हें रोक लिया। अब तक कई विद्यार्थी वापस हॉस्टल चले गए, लेकिन कई अभी वहीं है। स्थिति अब सामान्य है।

Related Articles

Back to top button