Uncategorized

गर्मियों में फायदे के साथ कुछ इस तरह नुकसान भी पहुंचाता है गन्ने का रस

गर्मी के मौसम में ज्यादा से ज्यादा मात्रा में पेय पदार्थों का सेवन करना चाहिए। इससे शरीर हाइड्रेटेड रहता है। फलों का जूस इसके लिए बेहतर विकल्प हो सकते हैं। इनमें पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व भी होते हैं जो शरीर के लिए जरूरी हैं। गन्ने का रस गर्मियों में खूब पसंद किया जाता है। पोषक तत्वों से भरपूर होने के अलावा यह बेहद फायदेमंद भी होता है। इसमें कैल्शियम, क्रोमियम, कोबाल्ट, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फास्फोरस, पोटैशियम और जिंक जैसे तत्व पाए जाते हैं। इसके अलावा इसमें आयरन, विटामिन ए, सी, बी-कॉम्प्लेक्स, प्रोटीन और फाइबर काफी मात्रा में पाए जाते हैं। 

यह है इसके साइड इफेक्ट्स 

जानकारी के अनुसार गन्ने का रस 15 मिनट में ऑक्सीडाइज हो जाता है। इसके बाद इसे पीना बीमारियों को न्यौता देना है। इसलिए कभी भी देर तक रखे गए गन्ने के रस की बजाय इसे ताजा ही पीने की कोशिश करें। अगर आप बाजार से गन्ने का रस पीते हैं तो इससे संक्रमण का खतरा होता है। बाजार में मशीन से पेरकर निकाले गए गन्ने के रस में हानिकारक बैक्टीरिया और पेस्टीसाइड्स हो सकते हैं। ये आपके शरीर में पहुंचकर काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

पेट में भी हो सकती है समस्यां 

इसी के साथ गन्ने के रस में पॉलीकॉसनाल होता है। ऐसे में इसका ज्यादा मात्रा में सेवन करना कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देता है। इससे चक्कर आना, पेट खराब होना तथा अनिद्रा जैसी समस्याएं हो सकती हैं। गन्ने में मौजूद पॉलीकॉसनाल रक्त को पतला बनाता है। इससे रक्त का थक्का बनने में देरी होती है। ऐसे लोग जो पहले से ही खून को पतला करने की दवा ले रहे हैं उन्हें गन्ने का रस नहीं पीना चाहिए।

Related Articles

Back to top button