विदेश

पाकिस्तान में विपक्ष ने इमरान खान सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

पाकिस्तान की आठ माह पुरानी इमरान खान सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए विपक्ष एकजुट हो रहा है। मंगलवार को इसका संकेत देते हुए जमीयत-ए-इस्लामी पार्टी के प्रमुख मौलाना फजलुर्रहमान ने कहा कि क्रिकेटर से प्रधानमंत्री बने इमरान खान को अपनी उल्टी गिनती शुरू कर देनी चाहिए। पूर्व पीएम नवाज शरीफ से मिलने के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए मौलाना ने कहा कि इंतकाम की सियासत कर रहे इमरान खान के पास असली ताकत नहीं है। उनके पीछे की ताकतें खेल कर रही हैं।मौलाना ने कहा कि नेशनल एकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (नैब) राजनीतिक प्रतिशोध लेने के लिए बनाया गया संस्थान है। हमें इसे खत्म करने के लिए पूरी ताकत लगा देनी चाहिए।

बता दें कि पूर्व पीएम नवाज शरीफ, उनके भाई शाहबाज शरीफ और शाहबाज के बेटे हमजा शाहबाज पर नैब में अलग-अलग कई मामले चल रहे हैं। सोमवार को नैब ने हमजा शाहबाज को गिरफ्तार करने के लिए लाहौर में उनके 96-एच मॉडल टाउन स्थित आवास पर छापा भी मारा था, लेकिन पांच घंटे की जिद्दोजहद के बाद आखिर में अदालती दखल से नैब की टीम बैरंग लौट गई थी।

जहां तक नवाज शरीफ का सवाल है तो उन्हें पनामा पेपर केस में सजा हुई है और फिलहाल वे इलाज कराने के लिए छह हफ्ते की जमानत पर हैं। नवाज शरीफ की पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग के अलावा उनके कट्टर दुश्मन आसिफ अली जरदारी की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ने भी इमरान खान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। हाल ही में सिंध के लरकाना में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के संस्थापक जुल्फिकार अली भुट्टो की बरसी पर बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा था कि इमरान खान सरकार को लात मारकर बाहर कर देंगे। शरीफ के अलावा आसिफ अली जरदारी पर भी नैब की अदालत में फर्जी बैंक अकाउंट सहित कई केस चल रहे हैं। बता दें कि जुल्फिकार अली भुट्टो की बेटी बेनजीर की शादी आसिफ अली जरदारी से हुई थी और बिलावल इनकी संतान हैं।

Related Articles

Back to top button