उत्तर प्रदेशदेश

 योगी आदित्यनाथ:-मंच से वंदे मातरम् के नारे लगवाने के साथ कहा..BJP राम मंदिर बनाएगी.

लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज बरेली में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के पक्ष में विजय संकल्प रैली को संबोधित किया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर जब भी बनेगा उसे भारतीय जनता पार्टी ही बनाएगी। उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प है मंदिर बनाना। हम पूरी कोशिश कर रहे हैं कि जल्द से जल्द मंदिर बने। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण भारतीय जनता पार्टी कराएगी, कोई दूसरा नहीं। हम अपने कमिटमेंट पर अडिग हैं। दूसरों को इस पर किसी तरह का कोई संदेह नहीं होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि भाजपा लोकल्याणकारी योजनाओं के साथ है तो विपक्ष किसान, युवा विरोधी योजनाओं के साथ आ रहे है। कांग्रेस के लोग जान लें पीएम मोदी के पांच वर्ष उनके 55 वर्ष से अधिक अच्छे रहे। हमने नौजवानों के लिए कई योजनाओं की शुरुआत की है। जिससे युवाओं में बेरोजगारी कम करने के साथ उनको स्वावलंबी बनाने का काम किया गया।

उन्होंने केंद्र सरकार की तमाम योजनाओं का जिक्र करते हुए कांग्रेस के घोषणा पत्र और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के उस बयान को लेकर तीखे प्रहार किए जिसमें उन्होंने तमाम मुसलमानों से एकजुट होकर गठबंधन के हाथ में वोट देने की अपील की थी। मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने कहा है कि मुस्लिम वोट बँटना नहीं चाहिए। मुख्यमंत्री ने गन्ना किसानों और युवाओं से जुड़ी सरकार की योजनाओं पर प्रकाश डाला। कानून व्यवस्था को लेकर बरेली में सराफ को लूट कर भागने वाले बदमाशों को मार गिराने का जिक्र किया। साथ ही पूर्व की सरकारों में होने वाले दंगों के लिए सपा बसपा को जिम्मेदार ठहरा गए। सिविल एंक्लेव का जिक्र करते हुए जल्द उड़ान शुरू होने के लिए भी आश्वस्त किया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बरेली भी जल्दी ही वायु सेवा से जुड़ जाएगा। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों में कोई महीना ऐसा नहीं होता था जब दंगा नहीं होता था। कोई पर्व या त्योहार नहीं शांति ने नहीं होता था। दंगाइयों को सत्ता का संरक्षण मिलता था। दंगाइयों को वोट बैंक बनाया गया था। सपाबसपा और कांग्रेस का एक ही लक्ष्य है अपने परिवार का कल्याण, वो देश कल्याण की बात कभी कर ही नहीं सकते हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में पहले कोई क्रय केंद्र नहीं होता था। पहले गेहूं का समर्थन मूल्य 1260 होता था, लेकिन हमने समर्थन मूल्य को 1860 तक बढ़ाया। इसके साथ ही मोदी सरकार बनते ही क्रय केंद्र को भी चालू किया। हम गन्ना किसान के साथ खिलवाड़ नहीं होने देंगे। हमने कहा कि जब तक खेत में गन्ना रहेगा मिल नहीं बंद होगी। यहां तो सपा-बसपा-कांग्रेस के समय में किसान आत्महत्या करने के लिए मजबूर होते रहे। गन्ना मूल्यों का भुगतान नहीं होता था। हमारी सरकार ने सिर्फ दो वर्ष 62 हजार करोड़ रुपये का भुगतान करने का काम किया है।

Related Articles

Back to top button