Uncategorized

‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज पर चुनाव आयोग ने लगाई रोक, 15 अप्रैल को होगी सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज पर चुनाव आयोग के रोक लगाने के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर 15 अप्रैल को सुनवाई करेगा.

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर बनी फिल्म ‘पीएम नरेंद्र मोदी’ की रिलीज पर चुनाव आयोग के रोक लगाने के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर 15 अप्रैल को सुनवाई करेगा. चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि बायोपिक के निर्माताओं की ओर से दायर याचिका पर सोमवार को सुनवाई की जायेगी.

चुनाव पैनल ने बुधवार को इस बायोपिक के प्रदर्शन पर रोक लगा दी थी. आयोग ने कहा चुनावों के समय कोई ऐसी फिल्म जो किसी राजनीतिक हस्ती या व्यक्ति के उद्देश्यों की पूर्ति करती हो, उसे इलेक्ट्रानिक मीडिया में प्रदर्शित नहीं किया जा सकता.

सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को कांग्रेस के एक कार्यकर्ता की याचिका का निपटारा करते हुए कहा था कि निर्वाचन आयोग ही बायोपिक की रिलीज को तय करने का सही मंच है. इस याचिका में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने की मांग की गई थी.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर सुनवाई करते हुए कहा था कि चुनाव आयोग को ही यह तय करना चाहिए कि आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनजर फिल्म की रिलीज चुनाव के दौरान किसी विशेष राजनीतिक पार्टी को फायदा या उसके लिए झुकाव तो पैदा नहीं करती. जिसके बाद फिल्म की रिलीज पर चुनाव आयोग ने रोक लगा दी थी.

पहले ये फिल्म 5 अप्रैल को ही देश भर में रिलीज होने वाली थी लेकिन फिल्म की रिलीज को लेकर उठे विवाद के कारण मेकर्स ने इस फिल्म की रिलीज को पोस्टपोन कर 11 अप्रैल कर दिया था. हालांकि इस फिल्म को अभी तक सेंसर बोर्ड ने सर्टिफिकेट नहीं दिया है और जब तक सेंसर प्रक्रिया पूरी नहीं हो होगी ये फिल्म बड़े परदे पर रिलीज नहीं होगी.

आपको बता दें कि फिल्म में अभिनेता विवेक ओबेरॉय मोदी की भूमिका में हैं. इसमें बोमन ईरानी, दर्शन कुमार, वहीदा रहमान, मनोज जोशी और बरखा बिष्ट-सेनगुप्ता भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं.

Related Articles

Back to top button