उत्तराखंड

उत्तरकाशी के आराकोट पहुंची एसडीआरएफ की टीम, घायलों को किया गया एयरलिफ्ट

उत्तरकाशी के आराकोट में रविवार को बारिश, भूस्खलन व बादल फटने की घटना के बाद 10 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं। अभी 12 लोग लापता हैं। एसडीआरएफ, पुलिस, प्रशासन व आपदा प्रबंधन की 20 टीमें आराकोट क्षेत्र के आपदा प्रभावित छह गांवों में पहुंच गई है। आपदा प्रबंधन सचिव अमित नेगी भी आराकोट पहुंच गए हैं, तीन घायलों को सोमवार सुबह हेलीकाप्टर से देहरादून लाया गया है।

गौरतलब है कि बीते रोज उत्तरकाशी जिले की मोरी तहसील के आराकोट क्षेत्र के गांवों में बारिश का सबसे ज्यादा कहर बरपा। यहां बादल फटने के बाद उफान पर आए बरसाती नालों ने तबाही मचाई। भारी मात्रा में पानी और मलबा आसपास के गांवों तक आ पहुंचा। इससे 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि 17 लोग लापता है। रास्ते बंद होने की वजह से रेस्क्यू टीमें उत्तरकाशी के प्रभावित गांवों तक सोमवार सुबह ही पहुंच पाई।

उत्‍तरकाशी में बीते रविवार तड़के आराकोट में आई आपदा में रेस्क्यू टीमें सोमवार तड़के आराकोट पहुंची, जहां से कुछ टीमें पैदल रवाना हुई। कुछ टीमों को हेलीकाप्टर से आपदा प्रभावित क्षेत्र में ड्राप करने का प्रयास किया गया, लेकिन हेलीकाप्टर लैंड नहीं हो पाया। इसके कारण आराकोट से ही रेस्क्यू टीमें पैदल आगे बढ़ी। सोमवार तड़के से चले रेस्क्यू अभियान में तीन लोगों के शव बरामद हुए। अभी तक कुल 10 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं। इनमें सबकी शिनाख्त हो चुकी है।  अभी 12 लोग लापता हैैं।

इसके अलावा रेस्क्यू टीम ने आराकोट और सनेल से चार घायल लोगों का रेस्क्यू कर देहरादून के अस्पतालों में ले जाया गया, जबकि दो घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोरी में भर्ती कराया गया। हालाकि, जिला आपदा प्रबंधन के अनुसार छह लोग लापता चल रहे हैं। आपदा प्रबंधन कार्य में तेजी लाने के लिए आपदा सचिव अमित नेगी और एसडीआरएफ के आइजी संजय गुंज्याल भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने रेस्क्यू टीम के साथ राहत टीमें भी रवाना की। आपदा प्रभावितों का हालचाल जाने के लिए प्रभारी मंत्री धन सिंह और कृषि मंत्री सुबोध उनियाल भी आराकोट पहुंचे,  जहां उन्होंने अधिकारियों से बैठक ली।

उत्तरकाशी के हर्षिल में मलबा आने से गंगोत्री राजमार्ग अवरुद्ध, केदारनाथ हाईवे रुद्रप्रयाग के गौरीकुंड में सुचारू, हरिद्वार में गंगा खतरे के निशान को पार कर गई है। तटीय क्षेत्रों में रहने वालों के लिए अलर्ट जारी, कुमाऊं के चंपावत के बनबसा में शारदा नदी भी उफान पर है। शारदा बैराज से वाहनों की आवाजाही बंद, अलर्ट जारी, मौसम विभाग की चेतावनी के मद्देनजर सभी जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं।

Related Articles

Back to top button