खेल

हरभजन बोले- टेस्ट हैट्रिक के लिए जसप्रीत बुमराह पर हमेशा रहेगा इस खिलाड़ी का ‘कर्ज’

टीम इंडिया के तेज गेंदबाज ने शनिवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट मैच में हैट्रिक ली। जमैका में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन के तीसरे सत्र में जसप्रीत बुमराह ने घातक गेंदबाजी से हैट्रिक लेकर वेस्टइंडीज में इतिहास रच दिया। इस हैट्रिक को लेकर टीम इंडिया के ही एक स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह का कहना है कि इस ऐतिहासिक हैट्रिक के लिए उनको एक खिलाड़ी का हमेशा ऋणी रहना होगा।

दाएं हाथ के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने हैट्रिक के साथ-साथ 6 विकेट अपने नाम किए। वहीं, टेस्ट मैच में हैट्रिक को लेकर हरभजन सिंह ने कहा है कि इस हैट्रिक के लिए जसप्रीत बुमराह को कप्तान विराट कोहली का हमेशा कर्जदार रहना होगा, क्योंकि LBW पर उन्होंने ही गौर किया था और अहम मौके पर रिव्यू लेकर जसप्रीत बुमराह की हैट्रिक पूरी कराई। ऐसा ही कुछ हरभजन सिंह के साथ भी हुआ था जब उन्होंने भारत के लिए सबसे पहले टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेकर इतिहास रचा था।

साल 2001 में टेस्ट क्रिकेट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हरभजन सिंह भारत की ओर से हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज थे। इसके बाद साल 2006 में इरफान पठान ने क्रिकेट के इस फॉर्मेट में हैट्रिक ली थी। इसके बाद अब साल 2019 में जसप्रीत बुमराह ने हैट्रिक लेकर इतिहास रचा है। हरभजन सिंह ने कहा है, “जितनी ये हैट्रिक जसप्रीत बुमराह से बिलोंग करती है उससे कहीं ज्यादा विराट कोहली के हिस्से में आएगी। गेंदबाज डीआरएस के लिए उत्सुक नहीं था, लेकिन कप्तान ने गट फीलिंग के साथ डीआरएस कॉल किया और लगातार तीसरा विकेट मिल गया।”

टर्बनेटर हरभजन सिंह ने ये भी बताया है कि बिना सदगोपन रमेश के वो भी हैट्रिक लेकर इतिहास नहीं रच सकते थे। भज्जी ने कहा, “मुझे याद है मैंने दादा(सौरव गांगुली) से बात की थी और हमने निर्णय लिया था कि गेंद को स्टंप पर रखा जाएगा, जिसके लिए थर्ड लेग लगाया जाए और हमने सदगोपन रमेश को वहां रखा जो उस समय अच्छे एथलीट थे और उन्होंने कैच पकड़कर हैट्रिक पूरी कराई।”I

Related Articles

Back to top button