राज्य

बिहार पुलिस दारोगा परीक्षा का रिजल्ट जारी होने के बाद कटअॉफ मार्क्स को लेकर फैलाया जा रहा भ्रम

 बिहार पुलिस अवर सेवा आयोग (BPSSC Bihar Police SI Mains Exam) द्वारा 2446 पदों के लिए मुख्य लिखित परीक्षा अप्रैल अंतिम या मई प्रथम सप्ताह में होगी। इसके अतिरिक्त प्रवर्तन अवर निरीक्षक के 212 पदों के लिए अप्रैल के अंतिम सप्ताह में प्रारंभिक परीक्षा आयोजित की जाएगी। इसमें शामिल होने के लिए दो लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। इसकी परीक्षा चार चरणों में आयाजित होगी।

उक्त बातें शुक्रवार को बीपीएसएससी के विशेष कार्य पदाधिकारी अशोक प्रसाद ने कही। उन्होंने कहा कि परीक्षा से संबंधित जानकारी आयोग की वेबसाइट www.bpssc.bih.nic.in के माध्यम से अपडेट किया जाएगा। प्रारंभिक परीक्षा के रिजल्ट में पूरी पारदर्शिता बरती गई है।

कटऑफ को लेकर फैलाया जा रहा भ्रम

ओएसडी ने कहा कि प्रारंभिक परीक्षा के कटऑफ मार्क्स को लेकर सोशल मीडिया पर कुछ लोगों द्वारा भ्रम फैलाया जा रहा है। कटऑफ में किसी स्तर पर गड़बड़ी नहीं है। अभ्यर्थियों के दिए गए जवाब के आधार पर कटऑफ का निर्धारण होता है। 22 दिसंबर को आयोजित संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा पूरी तरह से कदाचार मुक्त और शांतिपूर्वक तरीके से संपन्न हुई थी।

प्रारंभिक परीक्षा में 50,072 अभ्यर्थी हुए थे सफल

पुलिस अवर निरीक्षक परिचारी, सहायक अधीक्षक कारा एवं सहायक अधीक्षक कारा (पूर्व सैनिक) के 2446 पदों के लिए पांच लाख 85 हजार 829 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए थे। इसमें 50,072 अभ्यर्थी सफल हुए हैं। अभ्यर्थियों के प्रश्न पत्र लीक के आरोप की जांच कराई गई। लेकिन, आरोप बेबुनियाद निकला। अभी तक किसी अभ्यर्थी या एजेंसी ने पर्चा लीक होने का पुख्ता प्रमाण नहीं दिया है।

मुख्य परीक्षा के बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा होगी

बता दें कि मुख्य परीक्षा के बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा होगी, जिसके आधार पर पद के मुकाबले 6 गुना अभ्यर्थियों का चयन शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए किया जाएगा। इस परीक्षा के बाद दारोगा, सार्जेंट और सहायक जेल अधीक्षक के पद के लिए अंतिम रूप से चयनित अभ्यर्थियों का रिजल्ट जारी किया जायेगा।

Related Articles

Back to top button