अपराध

राजस्थान परिवहन निगम की बस पर कार सवार लुटेरों ने किया हमला

पुलिस के अनुसार, घटना शुक्रवार सुबह करीब चार बजकर 45 मिनट पर केएमपी एक्सप्रेसवे पर बिलासपुर के पास हुई। पुलिस ने बताया कि एक वैगनआर कार के ड्राइवर ने बस को ओवरटेक किया और उसके आगे अपनी गाड़ी रोक दी।

हरियाणा में कुंडली-मानेसर-पलवल (केएमपी) एक्सप्रेसवे पर राजस्थान परिवहन निगम की एक बस पर कार सवार लुटेरों ने हमला कर दिया। लुटेरों ने कुछ यात्रियों समेत बस के ड्राइवर और कंडक्टर की पिटाई भी की। पुलिस ने शनिवार को इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि घटना के सिलसिले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के अनुसार, घटना शुक्रवार सुबह करीब चार बजकर 45 मिनट पर केएमपी एक्सप्रेसवे पर बिलासपुर के पास हुई। पुलिस ने बताया कि एक वैगनआर कार के ड्राइवर ने बस को ओवरटेक किया और उसके आगे अपनी गाड़ी रोक दी। कार की नंबर प्लेट काले कपड़े से ढंकी हुई थी।

बस के शीशे तोड़े

बस चालक ने पुलिस को दी अपनी शिकायत में कहा कि हम केएमपी एक्सप्रेसवे से गुजर रहे थे, तभी एक कार ने हमारी बस को ओवरटेक किया और कार आगे ले जाकर रोक दी। मैंने बस रोकी, तो छह लोग बस में घुस गए। उनमें से दो ने बस के शीशे तोड़ दिए, जबकि अन्य ने यात्रियों को धमकाया और उन्हें सब कुछ सौंपने के लिए कहा।

कंडक्टर का थैला छीनकर भागे लुटेरे

ड्राइवर के मुताबिक, जब कंडक्टर आकाश और अन्य यात्रियों ने उनका विरोध किया, तो उन्होंने उनकी पिटाई कर दी, आकाश के बाएं हाथ और सिर में चोट लगी है। ड्राइवर ने बताया कि यात्रियों ने दो लुटेरों को पकड़ लिया, जबकि अन्य हमलावर कंडक्टर का थैला छीनकर अपनी कार से भागने में सफल रहे। थैले में 27,000 रुपये थे।

दो आरोपी गिरफ्तार

घटना की सूचना मिलने के बाद भिवाड़ी थाने की पुलिस टीम मौके पर पहुंची और दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के जांच अधिकारी और सहायक पुलिस निरीक्षक गजेंद्र सिंह ने कहा कि गिरफ्तार आरोपियों की पहचान पटौदी क्षेत्र के गांव नूरपुर निवासी हिमांशु और अमित के रूप में हुई है। दोनों फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और हम अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए छापेमारी कर रहे हैं।

पुलिस ने शिकायत के आधार पर सभी छह आरोपियों के खिलाफ बिलासपुर थाने में भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। 

Related Articles

Back to top button