बिजनेस

अक्टूबर से अटल पेंशन योजना के नियमों में बड़ा बदलाव, यहाँ जानें पूरी डिटेल

अक्टूबर से अटल पेंशन योजना के नियमों में बड़ा बदलाव हो चुका है। इनके बारे में जान लेना सबके लिए बहुत जरूरी है। क्या आपको ये पूरी डिटेल पता है?

अटल पेंशन योजना छोटे निवेशकों के बीच बहुत लोकप्रिय है। मोदी सरकार द्वारा शुरू की गई ये योजना लाखों लोगों के लिए सुरक्षित निवेश का जरिया है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सरकार ने इस योजना से जुड़े एक अहम नियम में बदलाव कर दिया है। दरअसल, इस महीने से टैक्स जमा करने वाले लोग अटल पेंशन योजना में निवेश नहीं कर सकेंगे।

सरकार का ये नियम ऐसे निवेशकों के लिए बड़ा झटका है, जो कम पूंजी लगाकर एक सुरक्षित पेंशन योजना लेने की योजना बना रहे हैं। वित्त मंत्रालय ने बहुत पहले इस बात का नोटिफिकेशन जारी कर दिया था। सरकार ने अपने आदेश में कहा था कि कोई ग्राहक जो टैक्स दे रहा है, 1 अक्टूबर, 2022 या उसके बाद इस योजना में शामिल होगा। अगर अप्लाई करने की तारीख को या उससे पहले वह कोई टैक्स दे रहा है तो उसे इस योजना के लिए अयोग्य करार दिया जाएगा और उसका अटल पेंशन योजना (APY) खाता बंद कर दिया जाएगा।

इसमें क‍िसी भी तरह की गड़बड़ी न हो, इसके ल‍िए सरकार समय-समय पर इसका रिव्यू भी करेगी।

क्या है अटल पेंशन योजना

अटल पेंशन योजना असंगठित क्षेत्रों में काम करने वाले लोगों को ध्यान में रखते हुए शुरू की गई थी। अटल पेंशन योजना के तहत 60 वर्ष की आयु से तयशुदा पेंशन मिलती है। इस योजना में न्यूनतम 1,000 रुपये प्रति माह (12,000 रुपये सालाना) और अधितम 5,000 रुपये प्रति माह (60,000 रुपये सालाना) पेंशन दी जाती है। 18 से 40 वर्ष की आयु का कोई व्यक्ति इस योजना में शामिल हो सकता है। ग्राहक को कितना पैसा देना होगा, यह उसकी उम्र पर निर्भर करता है। अटल पेंशन योजना में पेंशनधारक को जीवनभर यह पेंशन दी जाती है। उसकी मृत्य के बाद पति या पत्नी को पेंशन मिलती रहेगी।

क्या है इसकी खास बात

APY के कुछ लाभों में से यह है कि यह योजना नागरिकों को मासिक आय का लाभ प्रदान करती है जब वे अब कमाई नहीं कर रहे हैं। इसके अलावा, इस योजना के तहत, यदि पेंशन योगदान पर वास्तविक प्राप्त रिटर्न, योगदान अवधि के दौरान न्यूनतम गारंटीड अनुमानित रिटर्न से कम है, तो सरकार इसकी भरपाई करेगी।

एपीवाई खाता कैसे खोलें

  • उस बैंक शाखा से संपर्क करना होगा जहां व्यक्ति का बचत बैंक खाता है।
  • आपको APY रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरना होगा।
  • बैंक खाता, आधार नंबर और मोबाइल नंबर जैसे आवश्यक विवरण प्रदान करें।
  • नॉमिनेशन और केवाईसी दस्तावेज का विवरण दें।
  • APY खाता खुल जाने के बाद बचत बैंक खाते में हर महीने कटने वाली किस्त के हिसाब से पैसा रखना सुनिश्चित करें।
  • कई व्यक्ति एक से अधिक एपीवाई खाता नहीं खोल सकता।

Related Articles

Back to top button