खेल

एडिलेड में भारत ने कंगारुओं को दी पटखनी, 10 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में जीता टेस्ट

ऑस्ट्रेलियाई धरती पर भारत को 45 टेस्ट मैचों में छठी जीत हासिल हुई. इस मैच में कंगारू गेंदबाजों ने टीम इंडिया को पहली पारी में 250 रनों पर समेट दिया. इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने भी ऑस्ट्रेलिया को पहली पारी में 235 रनों पर ऑलआउट कर दिया. भारत को पहली पारी के आधार पर 15 रनों की बढ़त मिल गई. भारत की दूसरी पारी 307 रन पर सिमट गई. इसी के साथ ही ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रनों का टारगेट मिला. लक्ष्य का पीछा करने उतरी कंगारू टीम को दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाजों ने 291 रन पर ऑलआउट कर इतिहास रच दिया.

अब सीरीज का दूसरा टेस्ट 14-18 दिसंबर तक पर्थ में खेला जाएगा.भारत की इस जीत में चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी के साथ-साथ रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी, ईशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी ने अहम भूमिका निभाई है.

ऑस्ट्रेलिया के लिए दूसरी पारी की शुरुआत मुश्किल साबित हुई पहले ओवर में गेंदबाजी करने आए ईशांत शर्मा ने दूसरी ही गेंद पर एरॉन फिंच को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया. जिसके बाद फिंच ने DRS लिया और रिप्ले में साफ हुआ कि गेंद नो बॉल है. इस तरह फिंच को जीवनदान मिल गया.

28 रन के स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका लगा. इस बार फिंच भाग्यशाली नहीं रहे और रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर विकेट के पीछे पंत को कैच दे बैठे. फिंच 11 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. शमी ने 44 रन के स्कोर पर मार्कस हैरिस को पंत के हाथों कैच आउट कराकर ऑस्ट्रेलिया को दूसरा झटका दे दिया. हैरिस 26 रन बनाकर आउट हुए. उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके लगाए.

अश्विन ने उस्मान ख्वाजा को रोहित शर्मा के हाथों कैच करा कर भारत को तीसरी सफलता दिलाई. ख्वाजा 8 रन बनाकर आउट हुए.

इसके बाद शमी ने पीटर हैंड्सकॉम्ब और शॉन मार्श के बीच बन रही पार्टनरशिप पर ब्रेक लगा दिया. हैंड्सकॉम्ब शमी की गेंद पर पुजारा को आसान सा कैच दे बैठे. हैंड्सकॉम्ब 40 गेंदों में 14 रन बनाकर आउट हुए.

सोमवार को भारत को पहली सफलता ईशांत शर्मा ने दिलाई. उन्होंने ट्रेविस हेड (14) को अपना शिकार बनाया. अजिंक्य रहाणे ने गली पोजिशन पर कैच लपका. 115 के स्कोर पर ऑस्ट्रेलिया को पांचवां झटका लगा.

शॉन मार्श (60) को जसप्रीत बुमराह ने पवेलियन लौटाया. विकेट के पीछे ऋषभ पंत ने मार्श का बेशकीमती कैच लपका. 156 के स्कोर पर कंगारुओं को छठा झटका लगा. शॉन मार्श और टिम पेन ने छठे विकेट के लिए 41 रन जोड़े.

मोहम्मद शमी ने ऑस्ट्रेलिया की दूसरी पारी के 101वें ओवर में मिशेल स्टार्क को ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट करा कर भारत को राहत दिलाई. स्टार्क ने कमिंस के साथ मिलकर 41 रनों की पार्टनरशिप कर ली थी. स्टार्क 44 गेंदों में 28 रन बनाकर आउट हुए .

चेतेश्वर पुजारा (71) और अजिंक्य रहाणे (70) के अर्धशतकों के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपनी दूसरी पारी में 307 रन बनाए. इसी के साथ ही भारत ने ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रनों की चुनौती दी है.

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के लिए स्पिन गेंदबाज नाथन लियोन ने सबसे अधिक छह विकेट लिए. इसके अलावा, मिशेल स्टार्क ने तीन विकेट हासिल किए और जोश हेजलवुड को एक सफलता मिली.

ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 235 रनों पर समाप्त करने के बाद भारत ने अपनी दूसरी पारी की अच्छी शुरुआत की. केएल राहुल (44) और मुरली विजय (18) ने पहले विकेट के लिए 63 रन जोड़े, लेकिन मिशेल स्टार्क ने इस साझेदारी को मजबूत नहीं होने दिया और विजय को पीटर हैंडसकॉम्ब के हाथों कैच आउट करा भारत को पहला झटका दिया.

इसके बाद राहुल ने पुजारा के साथ 13 रन ही जोड़े थे कि जोश हेजलवुड ने राहुल को विकेट के पीछे खड़े टिम पेन के हाथों कैच आउट करा भारत का दूसरा विकेट भी गिरा दिया. पुजारा ने कोहली के साथ तीसरे सत्र में 71 रनों की साझेदारी कर टीम को 147 के स्कोर तक पहुंचाया. इसी स्कोर पर नाथन लियोन ने कोहली (34) को एरॉन फिंच के हाथों कैच आउट करा भारत का तीसरा विकेट गिराया.

इसके बाद चेतेश्वर पुजारा ने अजिंक्य रहाणे के साथ मिलकर 87 रनों की पार्टनरशिप की. 234 रनों के स्कोर पर चेतेश्वर पुजारा के रूप में भारत का चौथा विकेट गिरा. पुजारा को नाथन लियोन ने फिंच के हाथों कैच आउट कराया. पुजारा ने अपने टेस्ट करियर का 20वां अर्धशतक जमाया. पुजारा ने 71 रन बनाए. पुजारा ने 204 गेंदों की अपनी बेशकीमती पारी में 9 चौके लगाए.

Related Articles

Back to top button