खेल

कोहली की कंगारुओं को वॉर्निंग, उम्मीद है पर्थ की पिच से घास नहीं हटाओगे

तेज गेंदबाजी बरसों से भारत की कमजोरी मानी जाती रही है. लेकिन बरसों की यह बात इतिहास हो गई है. कभी विदेशी टीम हमें अपनी तेज पिच और तेज गेंदबाज दिखाकर डराती थीं. पर्थ में खेले जाने वाले टेस्ट मैच से पहले ऑस्ट्रेलिया ने भी हरी-भरी पिच से भारत को डराने की कोशिश की है, लेकिन उसका दांव उल्टा पड़ गया है. भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इस हरियाली पिच का स्वागत करते हुए कहा कि उम्मीद है ऑस्ट्रेलिया इसका रंग-रूप नहीं बदलेगा. 

भारतीय क्रिकेट टीम का ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरा टेस्ट (Perth Test) मैच शुक्रवार (14 दिसंबर) से शुरू होने जा रहा है. ऐसे में टीम के कप्तान विराट कोहली पर्थ की पिच पर घास को देखकर बेहद खुश हैं. एक अंग्रेजी वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार, कोहली को आशा है कि पिच की घास को हटाया नहीं जाएगा और यह टीम के तेज गेंदबाजों के लिए अधिक मददगार साबित होगी. भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की मौजूदा टेस्ट सीरीज में 1-0 से आगे है. 

मैं खुश हूं कि पिच पर काफी घास है
विराट कोहली ने मैच से एक दिन पहले कहा, ‘हमने पिच देखी और उसमें काफी घास है. इस पिच पर एडिलेड ओवल मैदान से अधिक घास है और मैं इससे खुश हूं. यह पिच गेंदबाजों के लिए अधिक मददगार साबित होगी. ऐसे में हम सकारात्मक मानसिकता के साथ दूसरे टेस्ट मैच के लिए मैदान पर उतरेंगे.’ भारत ने 2008 में भी पर्थ में उस पिच पर जीत दर्ज की थी, जिसे तेज गेंदबाज की मददगार बताया गया था. हालांकि, तब ऑस्ट्रेलिया के सबसे तेज गेंदबाज कहे गए शॉट टैट एक भी विकेट नहीं ले सके थे. 

बड़े स्कोर बनाने का कोई फायदा नहीं… 
कप्तान विराट कोहली का यह भी मानना है कि बड़ा स्कोर खड़ा करने का कोई लाभ नहीं है, जब तक कि टीम के गेंदबाज अपनी भूमिका को सही तरीके से नहीं निभा सकते हैं. इसमें गेंदबाजों के लिए दोनों पारियों में 20 के 20 विकेट लेना जरूरी है. उन्होंने कहा, ‘किसी भी टेस्ट मैच में आप तभी जीत की दावेदारी को प्रबल कर सकते हैं, जब आप 20 विकेट हासिल कर लें. आप चाहें 500 या 600 रन बनाए, उसका कोई फायदा नहीं है अगर गेंदबाज अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं. अगर गेंदबाज 20 विकेट लेने में सक्षम हैं, तो 300 रन का स्कोर भी काफी होता है. मैं खुश हूं कि हमारे पास ऐसे अच्छे गेंदबाज हैं, जिनमें 20 विकेट लेने का जुनून है.’

भारत ने 13 सदस्यीय टीम घोषित की 
भारत ने इस मैच के लिए अपनी 13 सदस्यीय टीम घोषित कर दी है. इसमें छह बल्लेबाज, छह गेंदबाज और एक विकेटकीपर हैं. 
भारत (अंतिम 13): विराट कोहली (कप्तान), मुरली विजय, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, हनुमा विहारी, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रविंद्र जडेजा, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव. 
ऑस्ट्रेलिया (संभावित 11): टिम पैन (कप्तान), मार्कस हैरिस, एरॉन फिंच, उस्मान खवाजा, ट्रैविस हेड, शॉन मार्श, पीटर हैंड्सकॉम्ब, नाथन लॉयन, मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस, जोश हेजलवुड.

Related Articles

Back to top button