खेल

भारत और ऑस्ट्रेलिया :जडेजा की फिटनेस पर शास्त्री का विवादित बयान, कहा- पूरे फिट नहीं थे पर्थ में

 भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही चार टेस्ट मैचों की सीरीज में पहला टेस्ट जीतने के बाद पर्थ में हुए दूसरे टेस्ट में टीम इंडिया की 146 करारी हार हुई. इस पर कप्तान विराट सहित टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री की इस बात के लिए कड़ी आलोचना हुई थी कि पर्थ टेस्ट में टीम बिना नियमित स्पिनर के उतरी थी और टीम में चार तेज गेंदबाज शामिल किए गए थे. शास्त्री ने रविवार को खुलासा किया कि सीनियर स्पिनर रविंद्र जडेजा के कंधे में उस समय से जकड़न थी जब वह रणजी ट्राफी खेल रहे थे और ऑस्ट्रेलिया पहुंचने के चार दिन बाद उन्हें इंजेक्शन दिए गए थे.

जडेजा की फिटनेस का मुद्दा हैरान करने वाला है क्योंकि पर्थ में दूसरे टेस्ट की 13 सदस्यीय टीम में उन्हें शामिल किया गया था. उनके चयन की वजह एडिलेड टेस्ट में रविचंद्रन अश्विन के चोटिल हो जाना था. अश्विन की गैर मैजूदगी के कारण ही विराट ने पर्थ में चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरने का फैसला किया था. 

चोट प्रबंधन पर उठे सवाल
ऑस्ट्रेलिया की दोनों पारियों में वह अधिकांश समय क्षेत्ररक्षण करते हुए भी दिखे जिससे भारतीय टीम के चोट प्रबंधन कार्यक्रम पर सवाल उठ रहे हैं. शास्त्री ने प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कहा, ‘‘जडेजा के साथ समस्या यह थी कि कंधे में जकड़ने के कारण ऑस्ट्रेलिया आने के चार दिन बाद उन्होंने इंजेक्शन लिया था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इसका असर होने में कुछ समय लगा. जब वह भारत में था तब भी उसके कंधे में जकड़न थी लेकिन इसके बाद वह घरेलू क्रिकेट खेला. यहां ऑस्ट्रेलिया आने के बाद उसने एक बार फिर यही परेशानी महसूस की और उसे इंजेक्शन दिया गया.’’

फिट नहीं थे तो ऑस्ट्रेलिया लाए ही क्यों गए
शास्त्री ने इस बयान में से सवाल उठने लगे हैं कि क्या शत प्रतिशत फिट नहीं होने के बावजूद खिलाड़ी को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर लाया गया. कोच ने स्वीकार किया कि जडेजा के उबरने में उम्मीद से अधिक समय लगा. उन्होंने कहा, ‘‘इसमें (जडेजा के उबरने में) उम्मीद से अधिक समय लगा और हम सतर्कता बरतना चाहते थे. आप यह नहीं चाहते कि पांच या 10 ओवर फेंकने के बाद कोई गेंदबाजी बाहर हो जाए.’’ 

फिटनेस कारण बताया पर्थ में जडेजा को प्लेइंग इलेवन में न शामिल करने का
शास्त्री ने कहा, ‘‘इसलिए अगर पर्थ की बात करें तो हमें लगता है कि वह 70 से 80 प्रतिशत फिट था और हम दूसरे टेस्ट में उसे लेकर जोखिम नहीं उठाना चाहते थे. अगर वह यहां (मेलबर्न में) 80 प्रतिशत फिट हुआ तो वे खेलेंगे.’’ .

Ravi Shastri
रोहित पांड्य़ा की फिटनेस पर यह बोले शास्त्री
शास्त्री ने कहा कि फिटनेस चिंता की बात है. रोहित शर्मा पीठ की चोट से उबर गए हैं और नेट अभ्यास शुरू कर दिया है जबकि अगले 48 घंटे में अश्विन पर नजर रखी जाएगी. उन्होंने कहा, ‘‘फिटनेस सबसे बड़ी चिंता है. हमें अगले 24 घंटे में फिटनेस का आकलन करना होगा, एक समय में एक कदम उठाना होगा और हालात पर ध्यान देना होगा. हम अगले 48 घंटे में अश्विन पर नजर रखेंगे.’’ मुख्य कोच ने कहा, ‘‘रोहित शर्मा काफी अच्छा लग रहा है और उसने काफी सुधार किया है लेकिन हम देखेंगे कि वह कल कैसा करता है. आज वह अच्छा लग रहा है. हार्दिक पंड्या फिट है.’’ 

पांड्या पर स्थिति स्पष्ट नहीं
शास्त्री हालांकि यह खुलासा नहीं करना चाहते कि पंड्या अंतिम एकादश में जगह बनाएंगे या नहीं क्योंकि उन्होंने चोट से वापसी के बाद सिर्फ एक प्रथम श्रेणी मैच खेला है. उन्होंने कहा, ‘‘पंड्या के यहां आने से आपको विकल्प मिला है (पांच गेंदबाजों के साथ उतरने का). लेकिन वह काफी प्रथम श्रेणी क्रिकेट नहीं खेला है. चोट के बाद वह सिर्फ एक मैच खेला है इसलिए उसके खेलने पर फैसला करने से पहले हमें काफी सतर्कता बरतनी होगी.’’ 

Related Articles

Back to top button