Uncategorized

‘सुरक्षित देश में यदि कोई असुरक्षित महसूस करता है, तो ये उसकी मानसिकता का संकेत है’

बॉलीवुड अभिनेता नसीरुद्दीन शाह द्वारा दिए गए विवादित बयान की केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कड़ी निंदा की है. मुंबई में परेल महोत्सव कार्यक्रम में पहुंचे जावड़ेकर ने कहा ‘अगर कोई खुद को सुरक्षित देश में असुरक्षित महसूस करता है तो ये उसकी असुरक्षित मानसिकता का संकेत है. हर किसी को इस देश में अपने विचारों को सामने रखने और अपनी कला को व्यक्त करने का मौका मिलता है. इसलिए, इस तरह का आरोप सही नहीं है, सुरक्षित रहकर असुरक्षित महसूस करना एक पैशन है.

इस मामले में बेगानी शादी में अब्दुल्ला दीवाना की तरह कूदने वाले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को भी जावड़ेकर ने जवाब दिया. केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘इस मामले में पाकिस्तान से सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं.’ बता दें कि इमरान खान ने नसीरुद्दीन के बयान पर कहा था कि वह भारत के पीएम नरेंद्र मोदी की सरकार को दिखाएंगे कि अल्पसंख्यकों से कैसे व्यवहार करते हैं?

 

अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने हाल ही में भीड़ द्वारा की गई हिंसा का हवाला देते हुए कहा था कि कई जगहों पर एक गाय की मौत को एक पुलिस अधिकारी की हत्या से ज्यादा तवज्जो दी गई. फिल्म अभिनेता ने अपने बच्चों की सुरक्षा को लेकर भी फिक्र जाहिर की थी. उनका कहना है कि उन्होंने अपने बच्चों को किसी खास धर्म की शिक्षा नहीं दी है.

अभिनेता का कहना है कि ‘जहर फैलाया जा चुका है’ और अब इसे रोक पाना मुश्किल होगा. उन्होंने कहा, ‘‘इस जिन्न को वापस बोतल में बंद करना मुश्किल होगा. जो कानून को अपने हाथों में ले रहे हैं, उन्हें खुली छूट दे दे गई है. शाह के बयान को लेकर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की जा रही है.

Related Articles

Back to top button