उत्तर प्रदेशराज्य

अतीक अहमद को देवरिया जिला जेल में सुविधा प्रदान करने के साथ ही अन्य मामलों में ढील देने के मामले में डिप्टी जेलर के साथ चार जेल कर्मियों को निलंबित कर दिया

माफिया से सांसद बने विचाराधीन कैदी अतीक अहमद को देवरिया जिला जेल में सुविधा प्रदान करने के साथ ही अन्य मामलों में ढील देने के मामले में डिप्टी जेलर के साथ चार जेल कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर इस मामले में बड़ी कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही अतीक अहमद को अब देवरिया जिला जेल से सेंट्रल जेल बरेली शिफ्ट करने का आदेश दिया गया है।

लखनऊ से व्यापारी को अगवा करने के बाद देवरिया जिला जेल में माफिया अतीक अहमद ने उसको पीटने के बाद जबरिया प्रापर्टी के कागजों पर हस्ताक्षर कराया। यह मामला चर्चा में आने के बाद से ही मशीनरी सक्रिय हो गई। सीएम योगी आदित्यनाथ के इस बड़े मामले को संज्ञान में लेने के बाद अब देवरिया जेल के डिप्टी जेलर देवकांत यादव को निलंबित कर दिया गया है।

इसके साथ ही अन्य जेल कर्मियों को शिथिलता बरतने के मामले में निलंबित किया गया है। हेड वार्डर मुन्ना पांडे, वार्डर राकेश शर्मा के साथ वार्डर रामआसरे भी निलंबित किया गया है। देवरिया जिला जेल में अतीक अहमद ने कारोबारी मोहित जायसवाल को पीटा था। इन सबके साथ वहां के जेल अधीक्षक दिलीप पांडेय व जेलर मुकेश कटियार के खिलाफ भी कार्रवाई का निर्देश दिया गया है।

देवरिया से बरेली जेल में शिफ्ट होगा अतीक अहमद

लखनऊ के रियल एस्टेट कारोबारी मोहित जायसवाल को अगवा कर जिला जेल देवरिया में मारने-पीटने व धमकी देने के बाद बाहुबली व पूर्व सांसद अतीक अहमद सुर्खियों में है। शासन ने इसे गंभीरता से लेते हुए अतीक को बरेली जेल शिफ्ट करने का आदेश दिया है। 24 घंटे के भीतर अतीक को बरेली जेल में शिफ्ट करने की तैयारी है। जिलाधिकारी अमित किशोर ने बताया कि इस संबंध में शासन का पत्र आ गया है। जल्द ही शिफ्ट करने की कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी अमित किशोर ने पूरे प्रकरण की जांच के लिए एडीएम प्रशासन राकेश कुमार पटेल की अध्यक्षता में चार सदस्यीय टीम का गठन किया है। टीम ने सोमवार की सुबह से लेकर दोपहर बाद तीन बजे तक जेल के भीतर विभिन्न पहलुओं की जांच की। बंदियों से मुलाकात कराने में जेल प्रशासन की खामियां उजागर हुई हैं। इसके साथ ही अन्य खामियां भी जांच टीम के सामने आई हैं। टीम की जांच रिपोर्ट डीएम ने शासन को भेजी है।  

Related Articles

Back to top button