जरा हटके

सिर्फ बच्चे और बुजुर्ग ही रहते हैं इस गांव में, परिवार घर छोड़कर जाने को हुआ मजबूर

हमारे देश में कई ऐसे गांव है जिनके बारे में आपको पता भी नहीं होगा. ऐसे अजीबोगरीब गांव हमेशा चर्चा में रहे हैं. कई ऐसे गांव भी हैं जहां पर लोग ही नहीं रखते या ये कहा जाता कि वहां पर भूतों का निवास है. आज एक ऐसे ही गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जहां के हर दूसरे घर में ताला लगा हुआ. अब ऐसा क्यों है आइये जानते हैं आगे की बात जो आपको भी चौंका सकती है. 

दरअसल, हम बात कर रहे हैं मध्य प्रदेश के गोरा गांव के बारे में बता रहे हैं जहां पर हर एक दूसरे घर पर ताला लगा है. ये पूरा गांव सूनसान पड़ा है. दरअसल इस गांव के लोग पिछले कुछ साल से लगातार सूखे की मार झेल रहे हैं. इसलिए इस गांव के सभी पुरुष और महिलाएं काम की तलाश में शहर निकल गए. इस गांव में सिर्फ और सिर्फ बुजुर्ग और बच्चे ही देखने को मिलेंगे. इस गांव के बारे में एक जवान लड़के जयहिंद ने बताया, ‘मेरा परिवार गांव छोड़कर जा चुका है. मैं यहां पढ़ाई के लिए अकेला रहता हूं. मैं एक पुलिस वाला बनना चाहता हूं.’ ये लड़का इस गांव में अकेला ही रहता है.

इस गांव को छोड़ने की योजना बना रहे राजकुमार ने कहा कि, ‘मैं दिल्ली-नोएडा जाकर मजदूरी करूंगा या किसी फैक्ट्री में काम तलाश करूंगा. यहां बहुत कम मजदूरी मिलती है, इसलिए यहां काम नहीं कर सकता. मैं मेरे परिवार का खर्च भी नहीं चला सकता.’ आपको बता दें, सूखें की वजह से राज्य में जमीन का जलस्तर नीचे चला गया है. इसलिए गांव के सभी लोग इसे खाली करके काम की तलाश में शहर की ओर निकल पड़े.

Related Articles

Back to top button