खेल

चेतेश्वर पुजारा-हार्विक देसाई ने सौराष्ट्र को दिलाई रणजी ट्रॉफी की सबसे बड़ी जीत

हार्विक देसाई के पहले प्रथम श्रेणी शतक के दम पर सौराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy 2018-19) के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. उसने शनिवार (19 जनवरी) को रणजी ट्रॉफी के दूसरे क्वार्टर फाइनल में उत्तर प्रदेश को छह विकेट से मात दी. सौराष्ट्र ने यह जीत रिकॉर्ड 372 रन के लक्ष्य को हासिल कर दर्ज की. यह रणजी ट्रॉफी इतिहास में हासिल किया गया अब तक का सबसे बड़ा लक्ष्य है. इससे पहले असम ने 2008-09 में सर्विसेस द्वारा रखे गए 371 रन के लक्ष्य को हासिल कर इतिहास रचा था. 

सौराष्ट्र ने मैच के पांचवें और आखिरी दिन शनिवार की शुरुआत दो विकेट के नुकसान पर 195 रन के साथ की थी. देसाई अपने पहले शतक से 17 रन दूर थे, जिसे उन्होंने आसानी से हासिल कर लिया. उनके साथ चौथे दिन नाबाद लौटने वाले कमलेश माकवाना (7) हालांकि अपने खाते में तीन रन और जोड़कर पवेलियन लौट लिए.

हार्विक देसाई भी 236 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट लिए. देसाई की पारी में 259 गेंदों का सामना किया और 16 चौके मारे. उनके जाने के बाद चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 67) और शेल्डन जैक्सन (नाबाद 73) ने चौथे विकेट के लिए 136 रन की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई. पुजारा ने 110 गेंदों का सामना किया और नौ चौके मारे. जैक्सन ने 109 गेंदें खेलीं और 11 चौकों के अलावा एक छक्का लगाया.

उत्तर प्रदेश ने अपनी पहली पारी में 385 रन बनाए थे. वहीं, सौराष्ट्र की टीम अपनी पहली पारी में 208 रन ही बना सकी थी. उत्तर प्रदेश ने अपनी दूसरी पारी में 194 रन बनाए थे. इस लिहाज से उसने सौराष्ट्र के सामने विशाल चुनौती रखी थी. लेकिन हार्विक देसाई, चेतेश्वर पुजारा और शेल्डन जैक्सन ने उत्तर प्रदेश की उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

सेमीफाइनल में सौराष्ट्र का सामना कनार्टक से
रणजी ट्रॉफी में अब सौराष्ट्र का सेमीफाइनल में कर्नाटक से मुकाबला होगा. कर्नाटक ने क्वार्टर फाइनल में राजस्थान को छह विकेट से हराया. सेमीफाइनल मुकाबला 24 जनवरी से खेला जाएगा. दूसरे सेमीफाइनल में विदर्भ और केरल का मुकाबला होगा. विदर्भ ने उत्तराखंड को पारी व 115 रन से हराकर अंतिम चार में प्रवेश किया. केरल टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी थी. उसने मैच के तीसरे ही दिन गुजरात को 113 रन हराया था.

Related Articles

Back to top button