Uncategorized

आतंकियों ने खोला अहम राज, ‘पाकिस्तान से मिला था संदेश, दिल्ली में मचा दो तबाही’

दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार अब्दुल लतीफ (29) और हिलाल अहमद भट (26) हार्ड कोर आतंकी हैं। दोनों जैश-ए-मुहम्मद के प्रमुख अजहर मसूद से प्रेरित होकर आतंकी बने थे। अब्दुल तलीफ ने एक मदरसे से चार वर्ष का मुफ्ती का कोर्स किया है। उसी दौरान वह अपने उग्र विचार सोशल मीडिया पर रखने लगा था। उसके उग्र विचार से कम समय में सैकड़ों लोग उससे जुड़ गए थे।

सोशल मीडिया पर उसके विचार को देखकर पाकिस्तानी हैंडलर अबू मौज ने लतीफ से संपर्क किया। बाद में वह उसे प्रेरित करने को आतंकी अजहर मसूद का वीडियो और ऑडियो क्लिप भेजने लगा। पूरी तरह से गिरफ्त में आने पर उसने लतीफ को हमले के लिए टारगेट देना शुरू किया। पाक में बैठे अबू मौज ने ही दिल्ली में हमले के लिए उसे तैयार किया था। वह हथियार व अन्य जरूरत का समान भी मुहैया करा रहा था।

अब्दुल लतीफ और हिलाल अहमद गत वर्ष नवंबर में एक कार्यशाला में हिस्सा लेने के लिए जम्मू-कश्मीर से दिल्ली आए थे। इसी दौरान उन्होंने दिल्ली के वीवीआइपी सहित अन्य इलाकों की रेकी की थी। वे सुरक्षा एजेंसियों के निशाने पर न आएं, इसलिए सोशल मीडिया और मोबाइल चैट के जरिये अबू मौज व अन्य से संपर्क में रहते थे। सोशल मीडिया पर अब्दुल की पोस्ट से प्रभावित होकर महाराष्ट्र का पाशा नाम का एक शख्स उसके संपर्क में आया था। उसके माध्यम से उसने तीन जनवरी को जैश-ए-मुहम्मद के तीन रबर स्टांप दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके से बनवाए थे। वह जैश के पंफ्लेट भी छपवाने की फिराक में था।

सेना पर पत्थर फेंकने के मामले में भी किया गया था गिरफ्तार

स्पेशल सेल के डीसीपी प्रमोद कुमार कुशवाहा ने बताया कि लतीफ एक वर्ष पहले ही आतंकी संगठन से जुड़ा था। जम्मू-कश्मीर पुलिस वर्ष 2016 में उसको दो बार सेना और सुरक्षा बलों पर पत्थर फेंकने के मामले में गिरफ्तार भी कर चुकी है। उसकी ढाई महीने की एक बेटी भी है। उसका पिता भी आतंकी रह चुका है।

लाजपतनगर में बम ब्लास्ट और पूर्वी दिल्ली में पाइन लाइन उड़ाना चाहते थे आंतकी

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल द्वारा गिरफ्तार जैश-ए-मोहम्मद के दोनों आतंकियों अब्दुल लतीफ  और हिलाल अहमद भट  ने पूछताछ में सनसनीखेज खुलासा किया है। दोनों आतंकियों ने बताया कि वह दिल्ली के भीड़ भरे बाजार लाजपतनगर को निशाना बनाने की फिराक में थे। इसके अलावा, वे पूर्वी दिल्ली इलाके में गैस पाइप लाइन में ब्लास्ट भी करना चाहते थे।

यहां पर बता दें कि बृहस्पतिवार को दिल्ली को दहलाने की फिराक में लगे जैश-ए-मुहम्मद के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था। उनकी पहचान अब्दुल लतीफ (29) और हिलाल अहमद भट (26) के रूप में हुई है। जम्मू-कश्मीर के रहने वाले दोनों आतंकियों ने दिल्ली में पांच जगहों की रेकी की थी। इनमें वीवीआइपी इलाके और भीड़भाड़ वाली जगहें शामिल हैं। वे गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान इन जगहों पर धमाका करने वाले थे। उनके पास से दो हैंड ग्रेनेड, एक स्वचालित पिस्टल और 26 कारतूस बरामद हुए हैं। दोनों पाकिस्तानी आतंकी अबू मौज के संपर्क में थे और जैश के चीफ अजहर मसूद से प्रेरित थे। इनकी गिरफ्तारी के बाद दिल्ली पुलिस सहित सुरक्षा एजेंसियां इनसे जुड़े अन्य आतंकियों की तलाश में जुट गई है।

Related Articles

Back to top button