राजनीति

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी की राजनीति में औपचारिक एंट्री खासी चर्चा में रही है

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी की राजनीति में औपचारिक एंट्री खासी चर्चा में रही है। प्रियंका को कांग्रेस का महासचिव बनाए जाने के बाद उन पर कई सियासी हमले किए गए। यहीं नहीं, कुछ नेताओं ने तो निजी तौर पर प्रियंका को अपने निशाने पर लिया और उन पर आपत्तिजनक टिप्पणी की। वहीं, अब कांग्रेस अपनी नेता पर हो रही टिप्पणी को लेकर जवाबी हमले की तैयारी में है।

इसी सिलसिले में आगामी सोमवार को ऑल इंडिया महिला कांग्रेस सभी राज्यों की राजधानी में एफआइआर दर्ज कराने जा रही है। इसकी जानकारी महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देव ने दी। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि प्रियंका गांधी को पूर्वी उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का महासचिव बनने के बाद भाजपा नेताओं ने उनके खिलाफ कई बार अपमानजनक बयान दिए हैं।  

देव ने एक ट्विटर पर एक वीडियो जारी कर कहा कि राजनीति में काफी कम महिलाओं के शामिल होने का सबसे बड़ा कारण उनके साथ अच्छा व्यवहार न करना है। मैं इस बात से काफी दुखी हूं कि प्रियंका गांधी को भी इसी तरह से निशाना बनाया गया। उनके महासचिव बनने के बाद भाजपा नेताओं ने उनके खिलाफ ऐसा बयान दिया है जिससे मैं दुखी हूं।

उन्होंने आगे कहा कि मैं इसके खिलाफ दिल्ली में एक एफआइआर दर्ज कराऊंगी। मैं चाहती हूं कि अन्य राज्य अध्यक्ष अपने-अपने राज्यों की राजधानियों में एफआइआर दर्ज कराएं ताकि हम उन लोगों तक पहुंच सकें जो इस गंदे अभियान को चला रहे हैं।

अभी हाल ही में सोशल मीडिया पर प्रियंका के शारीरिक बनावट पर आपत्तिजनक पोस्ट डाला गया है। महिला कांगेस ने इसे लेकर फैसला किया है कि वो सोमवार चार फरवरी को देश के सभी राज्यों में एफआइआर दर्ज कराएगी।

गौरतलब है कि हाल ही में भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के मंत्री विनोद नारायण झा ने भी प्रियंका पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि प्रियंका के अंदर सुंदरता के अलावा कोई अन्य गुण नहीं है और पार्टी को याद रखना चाहिए कि सुंदरता वोटों को आकर्षित नहीं करती है। इससे पहले भाजपा के एक और नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि कांग्रेस चॉकलेटी चेहरों के भरोसे चुनाव लड़ने जा रही है। इसके अलावा भाजपा के विधायक सुरेंद्र सिंह ने भी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना रावण और उनकी बहन प्रियंका गांधी की तुलना शूर्पणखा से की थी। 

Related Articles

Back to top button