खेल

विश्व कप का दावेदार बताने की दौड़ में कूदे शेनवार्न, अपनी सूची में इन देशों को किया शामिल

आईसीसी वनडे विश्व कप के शुरू होने में मुश्किल से पांच माह का समय शेष रह गया है और इसके सम्भावित विजेता को लेकर अटकलें पहले ही शुरू हो गई हैं. अब  इस कड़ी में दिग्गज लेग स्पिनर शेन वॉर्न भी शामिल हो गए हैं. वार्न का मानना है कि इंग्लैंड और मौजूदा चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया के साथ-साथ भारत भी इस साल होने वाले विश्व कप के दावेदारों में से एक है.

वॉर्न ने मंगलवार को ट्विटर पर लिखा, “मुझे वास्तव में विश्वास है कि ऑस्ट्रेलिया फिर से इसे जीत सकता है. जैसा कि हम जानते हैं कि हमारे पास परिस्थितियों और मैच विजेता जैसे खिलाड़ी है. मुझे लगता है कि इंग्लैंड और भारत भी इसके दावेदार है. लेकिन अगर चयनकर्ताओं ने अच्छे से अपनी भूमिका निभाई तो 100 प्रतिशत ऑस्ट्रेलिया फिर से जीत सकता है.”

भारत ने हाल के दिनों में सीमित ओवरों के क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है. उसने इस साल विदेश में न्यूजीलैंड को 4-1 से हराने से पहले ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया था. इससे पहले भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने भी कहा था कि इस साल इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी 50 ओवरों के विश्व कप में भारत जीत का प्रबल दावेदार है.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट ने द्रविड़ के हवाले से लिखा था, “मुझे लगता है कि भारतीय टीम इस समय शानदार क्रिकेट खेल रही है और वह विश्व कप में प्रबल दावेदार के रूप में जाएगी. उम्मीद है कि हम अगले कुछ महीनों में और आगे बढ़ेंगे.”

आईसीसी सीओए भी कूदे इस बहस में
अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन का कहना है कि इस विश्व कप की विजेता टीम का चयन बेहद ही मुश्किल है. रिचर्डसन ने हाल ही में कहा था कि वे इस टूर्नामेंट में भारत और मेजबान इंग्लैंड दोनों का ही समर्थन करते हैं. उन्होंने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन को भी सराहा.

Dave Richardson

रिचर्डसन का कहना था, “एक विजेता टीम का चयन करना बेहद मुश्किल है. निश्चित तौर पर भारत बेहतरीन प्रदर्शन कर रहा है. इंग्लैंड के पास उसकी सबसे बेहतरीन वनडे टीम है. इसके अलावा, दक्षिण अफ्रीका भी शानदार प्रदर्शन कर रही है. हालांकि, हाल ही के वर्षो में भारतीय टीम ने जो विकास किया है उसमें उसे हरा पाना बेहद मुश्किल है.”

इस जुलाई में आईसीसी के मुख्य कार्यकारी पद से हटने वाले रिचर्डसन ने कहा कि वह भारतीय टीम को यह समझाने में काफी समय लगा कि निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) एक अच्छी चीज है.

Related Articles

Back to top button