विदेश

पुलवामा हमले के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया में प्रदर्शन,

 भारत वंशियों ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के विरोध में शनिवार को यहां विक्टोरियन संसद के बाहर प्रदर्शन किया. हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान में सक्रिय आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. प्रदर्शनकारियों ने ‘‘भारत माता की जय’’ के नारे लगाए. उनके हाथों में बैनर थे जिन पर ‘‘आतंकवाद को ना कहें’’ और ‘‘पाकिस्तान आतंकवाद का समर्थन करना बंद करो‘‘ लिखा था. 

World Cup 2019: रिकी पोंटिंग ने भारत के अलावा इन 2 टीमों को बताया विश्व कप जीतने का दावेदार

स्थानीय काउन्सेलर इंताज खान ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवाद का समर्थन करना बंद करना चाहिए. उन्होंने हमले में मारे गए परिवारों के लिए मुआवजे की मांग भी की. स्थानीय निवासी कार्तिक अरासू ने कहा कि यह एक शांतिपूर्ण प्रदर्शन था क्योंकि भारत हमेशा प्रेम और शांति के लिए खड़ा रहा है. ‘हिंदू कॉउंसिल ऑफ ऑस्ट्रेलिया’ ने भी आतंकवादी हमले की निंदा की.

उसने एक बयान में कहा, ‘‘ ‘हिंदू कॉउंसिल ऑफ ऑस्ट्रेलिया’ जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ के जवानों पर हुए आतंकवादी हमले की अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ कड़ी निंदा करता है. शहीदों के परिवार वालों के साथ हमारी गहरी संवदेनाएं हैं.’’ शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए मंगलवार को सिडनी के हैरिस पार्क में एक सभा का आयोजन किया जाएगा. लेबर पार्टी’ के नेता बिल शॉटेन ने भी इस हमले की निंदा की और जवानों के परिवारों के प्रति संवेदनाएं जाहिर की हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ हम सभी प्रकार के आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत के लोगों के साथ खड़े हैं.’’

Related Articles

Back to top button