Uncategorized

पुलवामा आतंकी हमले की जिम्‍मेदारी पाकिस्‍तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद ने ली है.

 पाकिस्‍तान का आतंकी चेहरा एक बार फिर बेनकाब हुआ है. भारतीय खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट के मुताबिक पाकिस्‍तानी सेना ने आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्‍मद के हेडक्‍वार्टर को कंट्रोल में लेने से पहले बड़ी साजिश को अंजाम दिया है. पाकिस्‍तानी सेना ने पुलवामा हमले को अंजाम देने वाले जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना आतंकी मसूद अजहर समेत 6 टॉप कमांडरों को सुरक्षित स्‍थान पर छिपा लिया है. खुफिया एजेंसियों के मुताबिक आतंकी संगठन जैश-ए मोहम्‍मद के चीफ मसूद अजहर को पाकिस्‍तानी सेना ने आईएसआई के सेफ हाउस में छिपाया है.

बता दें कि भारत की कार्रवाई से डरे पाकिस्तान ने जैश मुख्यालय को नियंत्रण में ले लिया है. जैश का मुख्यालय पाकिस्तान के बहावलपुर में है. पंजाब सरकार ने जैश-ए-मोहम्मद के मुख्‍यालय को अपने नियंत्रण में लिया है. जैश ने ही पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी. पाकिस्तान को इस कार्रवाई को नया ड्रामा माना जा रहा है. दरअसल, पाकिस्तान आतंकी मसूद अजहर को बचाने की कोशिश में है. बहावलपुर में ही पाकिस्तान सेना का 31 कोर का मुख्यालय है.

पाकिस्तान गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने अपने एक बयान में कहा, “पंजाब सरकार ने जैश के मुख्यालय को अपने कब्जे में ले लिया है और अपना प्रशासक वहां पर तैनात कर दिया है.” प्रवक्ता ने यह भी कहा कि यह कार्रवाई गुरुवार को प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में हुई एनएससी की बैठक में लिए गए निर्णय के बाद की गई. प्रवक्ता के मुताबिक, फिलहाल 600 छात्र इस मुख्यालय में पढ़ते हैं और 70 शिक्षक तैनात हैं. पंजाब पुलिस कैंपस को सुरक्षा प्रदान कर रही है.

Related Articles

Back to top button