खेल

INDvsAUS: ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज का दावा- मिल गया भारतीय बल्लेबाजों पर अंकुश लगाने का तरीका

भारत को पहले दो टी20 मैच में हराने वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम को पहले वनडे में छह विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी. अब उसे मौजूदा वनडे सीरीज (India vs Australia) में मजबूती से टिके रहने के लिए मंगलवार को खेला जाने वाला दूसरा वनडे (Nagpur ODI)जीतना जरूरी है. अगर वह दूसरा वनडे भी हार गई, तो सीरीज में 0-2 से पिछड़ जाएगी और फिर वापसी करना मुश्किल हो जाएगा. यकीनन, ऑस्ट्रेलिया की टीम भारत को हराने के लिए नई रणनीति तैयार कर रही होगी. ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज एडम जैम्पा (Adam Zampa) ने सोमवार को इस रणनीति के संकेत दिए. 

लेग स्पिनर एडम जैम्पा ने पहले वनडे मैच में दो विकेट लिए थे. वे मैच में ऑस्ट्रेलिया के सबसे सफल गेंदबाज रहे थे. ऑस्ट्रेलिया के लिए 35 वनडे में 44 विकेट लेने वाले इस गेंदबाज को लगता है कि उनका मजबूत पक्ष विकेट टू विकेट (विकेट की सीध में) गेंदबाजी करना है, ना की ऑफ-स्टंप के बाहर लेग स्पिन करना. बाहर निकलती गेंद पर विराट कोहली और केदार जाधव जैसे बल्लेबाज आसानी से शॉट खेल सकते हैं. 

एडम जैम्पा ने दूसरे वनडे मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘आईपीएल (IPL) के मेरे अनुभव और भारतीय खिलाड़ियों को खेलते देखकर मुझे लगा की ज्यादा विविधता की जगह सर्वश्रेष्ठ तरीके से गेंदबाजी करनी होगी. खासकर वनडे मैच में ज्यादातर लेग स्पिनर विकेट की सीध में गेंदबाजी कर रहे हैं और यहीं मेरा मजबूत पक्ष है.’ 
पहले टी20 और पहले वनडे मैच में विराट कोहली का विकेट चटकाने वाले जैम्पा ने कहा, ‘मुझे लगता है कि जब गेंद स्टंप्स से दूर जाती है तो विराट (कोहली) और जाधव अच्छा शॉट लगाते हैं. इससे मेरा मनोबल गिरता है. मुझे इससे बचना होगा.’ 

जैम्पा इस बात को लेकर खुश दिखे की दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माने जाने वाले कोहली के खिलाफ उनका रिकॉर्ड अच्छा है. उन्होंने कहा, ‘विराट जैसे खिलाड़ी का विकेट लेना अच्छा रहता है. मुझे लगता है कि टी20 (विशाखापत्तनम) और ब्रिस्बेन का उनका विकेट सर्वश्रेष्ठ था. मैच की स्थिति को देखते हुए मुझे लगता है वह बड़ी सफलता थी क्योंकि हम मैच जीतने में सफल रहे.’ 

Related Articles

Back to top button