Uncategorized

‘दलित, ब्राह्मण, यादव मुस्लिम का भाईचारा, इनके आगे हर कोई हारा’: BSP ने दिया स्लोगन

लोकसभा चुनाव की तारीखों के एलान के साथ ही सभी पार्टियां अब सुपर एक्टिव होकर काम कर रहीं हैं. बीजेपी को चुनावी रण में पटखनी देने के लिए प्रत्येक राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने एजेंडे पर काम कर रही है. चुनाव में हर संभव कोशिश करके बीएसपी भी बीजेपी को पटखनी देने के लिए तैयारी कर रही है. लोकसभा चुनाव 2019 के लिए बीएसपी ने पहली बार वॉर रूम तैयार किया है, जहां से हर सवाल का जवाब दिया जाएगा. इसके साथ ही बीएसपी ने नया चुनावी नारा भी दिया है. ‘दलित, ब्राह्मण, यादव मुस्लिम का भाईचारा, इनके आगे हर कोई हारा’. 

इसके साथ ही ये जानकारी है कि बसपा सुप्रीमो ने मायावती ने 14 मार्च को बसपा कोर कमेटी की बैठक बुलाई है. इस बैठक में सभी जोनल कॉडीनेटर और प्रभरियों को बुलाया गया है. इस बैठक में उम्मीदवारों के टिकट फाइनल होंगे. बैठक के बाद बसपा उम्मीदवारों की सूची को जारी कर देगी.  

जानकारी के मुताबिक, लखनऊ स्थित मायावती के माल एवेन्यू स्थित आवास को लोकसभा चुनाव के लिए बसपा केंद्रीय कैंप कार्यालय के रूप में तैयार किया जा रहा है. चुनावों के लिए यहां पहली बार बीएसपी सुप्रीमो मायावती वॉर रूम तैयार करवा रहीं हैं. इसके लिए उन्होंने खास लोगों को जिम्मेदारी भी दी है. सोशल मीडिया विशेषज्ञों की एक टीम वार रूम में लगाया गया है, जो ट्विटर, फेसबुक और वाट्सएप जैसे सोशल मीडिया पर मायावती के विचारों को शेयर कर सोशल मीडिया पर हो रही एक-एक गतिविधियों पर नजर रखेंगे.

हालांकि, बीएसपी की तरफ से मंगलवार को ये बयान आया था कि आगामी लोकसभा चुनावों में भी ‘हाई टेक प्रचार प्रसार’ से दूर रहेगी और पार्टी पुराने परंपरागत तरीके अपनाकर ही चुनाव मैदान में उतरेगी. आपको बता दें कि हाल ही में मायावती ट्विटर से जुड़ी और कुछ ही दिनों में उनके फॉलोअर की संख्या करीब डेढ़ लाख तक पहुंच गई है. ट्विटर पर आने के बाद से मायावती ने अपनी बात कहने का इस समय सबसे बड़ा सहारा बनाया है. 

Related Articles

Back to top button