Uncategorized

प्रधान मंत्री मोदी :-आतंकवादियों के अड्डों में घुसकर मारेंगे, ये नए भारत की नीति है

महाराष्ट्र में मिलकर चुनाव लड़ रही शिवसेना और भाजपा की लातूर रैली में मंगलवार को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गर्मजोशी से मिले। लगभग तीन साल बाद दोनों नेता एक मंच पर दिखाई दिए। इस दौरान मोदी ने उद्धव ठाकरे को ‘छोटा भाई’ कहकर संबोधित किया। जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इस भयंकर ताप में आप जो तपस्या कर रहे हैं उसको मैं बेकार नहीं जाने दूंगा। इसे मैं ब्याज समेत विकास करके लौटाऊंगा। आपका ये आशीर्वाद ही है, जो मुझे निरंतर काम करने की प्रेरणा देता है। छत्रपति शिवाजी महाराज जैसे महाराष्ट्र की धरती के शूरवीरों ने, जिस प्रकार से स्वाभिमानी और शक्तिशाली राष्ट्र की कल्पना की थी, आज उसी रास्ते पर भारत चल पढ़ा है।इससे पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने महाराष्‍ट्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा किया। इस दौरान ठाकरे ने पीएम मोदी से अपील की कि इस बार पाकिस्‍तान का नामो निशान मिटा दो।

पीएम मोदी के भाषण की प्रमुख बातें…

– पहली बार वोट डालने जा रहे मतदाताओं से पीएम मोदी ने कहा कि आपका वोट पाकिस्‍तान के बालाकोट में एयर स्‍ट्राइक करने वाले सैनिकों के नाम होना चाहिए की नहीं? आपका वोट देश को मजबूत बनाने के लिए होना चाहिए की नहीं?
– पीएम मोदी ने कहा कि देश में फिर से एनडीए की सरकार बनने के बाद देश के किसानों के लिए पेंशन की नई योजना शुरू की जायेगी। 60 साल बाद देश के किसानों को मिलने वाली पेंशन उनके लिए एक सपोर्ट की तरह काम करेगी।
– प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के जरिए अभी 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों के खातों में आज सीधे पैसे जमा हो रहे हैं। भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में घोषित किया है कि चुनाव के बाद हमारी नई सरकार आते ही इस योजना को आगे बढ़ाकर सारे किसानों को इस योजना का लाभ दिया जायेगा।

– धारा 370 के मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस कह रही है कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 कभी नहीं हटाई जाएगी, जो बात कांग्रेस का ढकोसला पत्र कह रहा है, वही बात पाकिस्तान भी कह रहा है। कांग्रेस सुन ले कि जम्‍मू-कश्‍मीर से धारा 370 नहीं हटाई जाएगी। 
– प्रधानमंत्री ने कहा, कांग्रेस कह रही है कि हिंसा वाले इलाकों में सैनिकों को मिले विशेष अधिकार को वो वापस ले लेंगे। पाकिस्तान भी तो यही चाहता है। ऐसे में कांग्रेस पाकिस्‍तान की मदद कर रही है।

– हमारी संस्कृति और परंपरा की रक्षा और राष्ट्र की सुरक्षा के लिए ही हमारे सारे काम और संकल्प है। घुसपैठ को पूरी तरह बंद करेंगे, ये हमारा संकल्प है। नक्सलियों पर प्रहार करेंगे और आदिवासियों तक विकास का लाभ पहुंचाने के लिए हमने दिन रात मेहनत की है।
-मोदी ने कहा, हमारे 5 वर्ष की सबसे बड़ी कमाई है, विश्वास जो हुआ उसके लिए भी आपका ये चौकीदार याद आता है और जो होना चाहिए उसकी भी जिम्मेदारी मेरी ही हिस्से में है।

-PM मोदी बोले, आतंकवादियों के अड्डे पर घुस कर मारेंगे ये नये भारत की नीति है। आतंक को हराकर ही हम दम लेंगे ये हमारा संकल्प है। जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रवादियों के मन में हमने नया विश्वास जगाया है। वहीं, नक्सलियों और माओवादियों से मुक्त भारत हमारा संकल्प है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे आज महाराष्‍ट्र में लगभग तीन साल बाद मंच साझा करते हुए नजर आए हैं। महाराष्‍ट्र में भाजपा और शिवसेना मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रही है। इससे पहले पीएम मोदी और उद्धव ठाकरे ने साल 2016 में मंच साझा किया था। पीएम मोदी महाराष्‍ट्र में आज कई जनसभाओं को संबोधित करेंगे। महाराष्‍ट्र में अक्‍टूबर 2014 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद दोनों पार्टियों के रिश्‍तों में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिले। कई सार्वजनिक मंचों पर कई शिवसेना नेता और खुद उद्धव ठाकरे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते नजर आए। इसके बाद से ऐसा लगने लगा था कि अब भाजपा और शिवसेना की राह हमेशा के लिए जुदा हो गई है।

इससे पहले मोदी और ठाकरे ने अरब सागर के तट पर छत्रपति शिवाजी महाराज के स्मारक के लिए आधारशिला रखने के एक कार्यक्रम में दिसंबर 2016 में मुंबई में आखिरी बार मंच साझा किया था। इसके बाद अब फिर एक बार मोदी और ठाकरे एक मंच पर नजर आएंगे। भाजपा के नेताओं का कहना है कि दोनों पार्टियों के नेताओं के एक मंच पर आने से मतदाताओं में गठबंधन के प्रति विश्‍वास बढ़ेगा। इसका प्रभाव लोकसभा चुनाव में जरूर देखने को मिलेगा।

शिवसेना और भाजपा महाराष्‍ट्र में भाजपा और शिवसेना ने महाराष्ट्र में क्रमश: 25 और 23 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा की है। हालांकि, प्रदेश में गठबंधन से पहले दोनों पार्टियों के बीच काफी उठापटक हुई। आखिरकार, दोनों पार्टियां साथ चुनाव लड़ने के लिए तैयार हो गईं। राज्य में 48 लोकसभा सीटें हैं। महाराष्‍ट्र में लोकसभा चुनाव 4 चरणों में होने जा रहा है।

Related Articles

Back to top button