राज्य

हरियाणा में वह कामयाबी हासिल नहीं कर सकीं: सुषमा स्वराज

भारत की पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की दिग्गज नेता सुषमा स्वराज का 67 साल की उम्र में एम्स में निधन हो गया. मंगलवार रात दिल का दौरा पड़ने के बाद बेहद नाजुक हालत में उन्हें रात 9 बजे एम्स लाया गया लेकिन डॉक्टर उन्हें बचा नहीं सके. दिल्ली की पहली महिला मुख्यमंत्री से लेकर देश की विदेश मंत्री तक तमाम उपलब्धियां सुषमा स्वराज के हिस्से हैं, लेकिन जहां उनका जन्म हुआ उस हरियाणा की सियासत में वह कामयाबी हासिल नहीं कर सकीं. यही वजह रही कि तीन बार करनाल सीट से लोकसभा चुनाव हारने के बाद वह कभी हरियाणा से चुनावी मैदान में नहीं उतरीं.

Related Articles

Back to top button