उत्तर प्रदेशराजनीति

कांग्रेस प्रवक्ता सिंघवी ने आरिफ खान को राज्यपाल बनाने पर ली चुटकी

रविवार को केंद्र सरकार ने पांच राज्यों में नए राज्यपाल नियुक्त करने की घोषणा की। इस घोषणा में सबसे चौंकाने वाला नाम पूर्व केंद्रीय मंत्री आरिफ मोहम्मद खान का था। खान को केरल का राज्यपाल बनाया गया है। इससे पहले उनकी राज्यसभा जाने की अटकलें थीं। खान की राज्यपाल के पद पर ताजपोशी को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने चुटकी लिया है। सिंघवी ने कहा कि यह बिल्कुल ‘अपेक्षित फैसला है’ क्योंकि पूर्व केंद्रीय मंत्री द्वारा हाल में दिए गए बयानों से साफ हो गया था कि भाजपा उन्हें जल्दी ही पुरस्कृत करेगी।

शाह बानो मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले को तत्कालीन राजीव गांधी सरकार द्वारा अमान्य घोषित करने के लिये कानून बनाए जाने के विरोध में खान ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था और मोदी सरकार ने उन्हें केरल का नया राज्यपाल नियुक्त किया है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, “केरल का राज्यपाल नियुक्त होने पर आरिफ मोहम्मद खान को बधाई। बिल्कुल अपेक्षित फैसला।

हाल के समय में उनके बयानों से साफ हो गया था कि भाजपा जल्दी ही उन्हें पुरस्कृत करेगी। पुरस्कार मिलना चाहिए था और काफी समय से इसका इंतजार था।” शाह बानो मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले का शुरुआती दिनों में राजीव गांधी सरकार द्वारा समर्थन किए जाने पर 1985 में संसद में खान का भाषण बेहद महत्वपूर्ण है। हालांकि, बाद में मौलवियों के कथित दबाव में आकर राजीव गांधी सरकार ने संसद में एक विधेयक पारित कर शाह बानो मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले को अमान्य करार दिया। खान ने उसके तुरंत बाद मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। खान को उदार मुस्लिम चेहरे को तौर पर जाना जाता है।

Related Articles

Back to top button