विदेश

क्रूज रोककर की जा रही सभी यात्रियों की जांच, चीन में कोरोना से अब तक 213 लोगों की मौत

चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में फैल चुका है. कोरोना से चीन में अब तक 213 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 9,692 कन्फर्म केस सामने आए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना को लेकर इंटरनेशनल हेल्थ इमरजेंसी की घोषणा की है. कोरोना के खौफ का ताजा मामला इटली से सामने आया है, जहां एक क्रूज पर चीनी दंपति में कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद 6000 यात्री फंस गए हैं.

इटली में कोरोना के डर से एक क्रूज पर सवार 6000 यात्री फंस गए. समाजार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक इटली में यात्रियों से भरे एक क्रूज को इसलिए पोर्ट पर रोक दिया गया क्योंकि उसमें सवार एक चीनी दंपति ने तबीयत खराब होने की शिकायत की थी. इसके बाद क्रूज में सवार अधिकारियों को डर हो गया कि दंपति को कोरोना वायरस का संक्रमण हो सकता है. फिर क्या था क्रूज को रोक दिया गया.

क्रूज रोक कर की रही यात्रियों की जांच

इसमें सवार एक दंपति ने अचानक चालक दल के सदस्यों को बताया कि उनकी तबीयत खराब है. उन्होंने सर्दी और जुकाम की शिकायत की. इसके बाद अफरातफरी मच गई और क्रूज को रोक दिया गया. क्रू मेंबर ने दंपति को अलग किया और क्रूज में सवार बाकी लोगों की जांच की जा रही है. बताया जा रहा है कि अगले आदेश तक उसे वहीं रोका गया है.

समाजार एजेंसी पीटीआई ने द सन वेबसाइट के हवाले से बताया कि एक पति पत्नी मकाऊ से इस क्रूज पर चढ़े थे. इस क्रूज का नाम कोस्टा सार्मेडा है और ये क्रूज ब्रिटेन से बोर्ड किया गया था. क्रूज के कप्तान विन्केंजो लियोन ने बताया कि स्थिति अब स्थिति नियंत्रण में है और बोर्ड पर कोई परेशानी नहीं है. वर्तमान में यह क्रूज रोम से 35 मील उत्तर सिविटेवचिया में रुका हुआ है.

WHO ने कोरोना पर की ‘इमरजेंसी’ की घोषणा

चीन से शुरू होने वाले कोरोना दुनिया भर के 18 से ज्यादा देशों में अपना पैर पसार चुका है. समाचार एजेंसी पीटीआई ने चीन की सिन्हुआ न्यूज़ एजेंसी के हवाले से बताया है कि वहां अब तक 213 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 9,692, कन्फर्म केस सामने आए हैं. चीन का हुबेई प्रांत कोरोना का केंद्र बना हुआ है. यहां कोरोना से अबतक 204 लोगों की मौत हो चुकी है. पीटीआई के मुताबिक दुनिया भर के देशों में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना पर इंटरनेशनल इमरजेंसी की घोषणा कर दी है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के चीफ टेड्रोस ऐडनम ने कहा, ‘हमारी चिंता वैसे देशों को लेकर है, जहां स्वास्थ्य सुविधाएं कमजोर हैं और उन देशों को कोरोना से मुकाबला करने में परेशानी हो सकती है. इसलिए हमने अंतरराष्ट्रीय पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी की घोषणा की है.’

दुनिया के 18 देशों में कोरोना ने पसारे पैर

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनिया के 18 देशों में कोरोना ने पैर पसार लिए हैं. इन देशों में कुल 82 कन्फर्म केस की पुष्टि हो चुकी है. इनमें अमेरिका, जापान और वियतनाम भी शामिल है. इसके अलावा हांगकांग में कोरोना वायरस का 17 कन्फर्म केस सामने आया है, जबकि थाइलैंड में 7 संदिग्ध पाए गए हैं. मकाऊ में 5, ताइवान में 4 कोरोना वायरस से संक्रमित लोग पाए गए हैं. आस्ट्रेलिया और सिंगापुर में चार-चार, कोरिया रिपब्लिक, जापान, फ्रांस और मलेशिया में तीन-तीन केस सामने आए हैं. साथ ही वियतनाम में दो और नेपाल में अबतक कोरोना वायरस का 1 केस सामने आया है.

Related Articles

Back to top button