बिजनेस

सस्ते में सोना खरीदने का बेहतरीन मौका, 11000 से ज्यादा गिरे दाम, जानिए क्या है कीमत

सोना खरीदारों के लिए अच्छी खबर है। लोगों के पास सोने-चांदी खरीदने का शानदार मौका है। वहीं शादी-ब्याह के इस सीजन में सोना-चांदी खरीदने के लिए प्लान बना रहे लोगों के ल‍िए राहत भरी खबर है। सोना अपने ऑल टाइम हाई प्राइस से काफी सस्‍ता हो चुका है। पिछले साल अगस्त में सोना 56200 रुपये प्रति 10 ग्राम के रेकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया था लेकिन उसके बाद से इसमें 11,000 रुपये से अधिक की गिरावट आ चुकी है। 

वहीं अगर इस साल की बात करें तो सोना 5000 रुपये से ज्‍यादा सस्ता हो चुका है। 31 द‍िसंबर को सोना 50202 रुपये/10 ग्राम पर था और चांदी 67383 रुपये/ किलो ग्राम पर था। लेकिन बीते शुक्रवार से तुलना करें तो सोना 44937 रुपये/10 ग्राम और चांदी 66815 रुपये/ किलो ग्राम पर रहा है। ऐसे में इस साल सोना 5265 रु सस्‍ता हुआ और चांदी 568 रु लुढ़की।

इस कारोबारी सप्‍ताह की बात करें तो सोना-चांदी कीमत में मामूली फेरबदल देखने को म‍िली। सोने के हाजिर भाव में 109 रु की तेजी आई है जबकि चांदी 150 रु की ग‍िरावट आई। वहीं ऑल टाइम हाई से बात करें तो सोना अबतक 11189 रुपये सस्ता हुआ जबकि चांदी में भी 8198 रु जबरदस्‍त ग‍िरावट रही है।

जानकारों की मानें तो कोरोना संक्रमण की चिंताएं अब लोगों के मन से दूर हो रही है। लिहाजा लोग अब सुरक्षित निवेश के तौर पर सोने को नहीं खरीद रहे हैं। निवेशकों ने शेयर बाजार की ओर रुख किया है। लिहाजा आने वाले दिनों में कीमतें और गिर सकती है। घरेलू सर्राफा बाजार में सोने के दाम गिरकर 40 हजार रुपये प्रति दस ग्राम पर आ सकते है। साथ ही इन लोगों का कहना है कि अगले 15 दिन और सोने की कीमतों में गिरावट का रुख जारी रह सकता है। लेकिन, इसके दिवाली तक  फिर से 50 हजार रुपये प्रति दस ग्राम तक पहुंचने की उम्मीद है।

दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट प्रस्ताव में सोने और चांदी पर आयात शुल्क में 5 फीसदी की कटौती का ऐलान किया है। फिलहाल सोने और चांदी पर 12.5 फीसदी आयात शुल्क चुकाना पड़ता है। लेकिन अब एक अक्टूबर से सोने और चांदी पर सिर्फ 7.5 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी चुकानी होगी। इससे भी सोने और चांदी की कीमतों में कमी आएगी।

Related Articles

Back to top button