खेलवीडियो

स्पिनर हनुमा विहारी ने पर्थ टेस्ट में लिया ‘बाउंसर’ पर विकेट, भारत की वापसी कराई

 भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा टेस्ट पर्थ की हरी-भरी पिच पर खेला जा रहा है. ऑप्टस स्टेडियम की इस पिच पर तेज गेंदबाजों को मदद मिलने की संभावना है. इसी कारण भारतीय कप्तान विराट कोहली ने अपनी टीम में चार स्पेशलिस्ट तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, उमेश यादव और मोहम्मद शमी को शामिल किया. लेकिन खेल के पहले दिन पहले सेशन में भारतीय तेज गेंदबाज बुरी तरह नाकाम रहे. इसके बाद भारतीय कप्तान को स्पिन के ऑप्शन तलाशने पड़े. 

विराट कोहली ने भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच दूसरेे टेस्ट के पहले सेशन में तो किसी स्पिनर को गेंदबाजी नहीं दी. लेकिन तब दूसरे सेशन में भी तेज गेंदबाज ज्यादा प्रभाव डालने में नाकाम रहे, तो उन्होंने हनुमा विहारी को गेंद थमा दी.हनुमा विहारी को चोटग्रस्त रोहित शर्मा की जगह टीम में शामिल किया गया है. हनुमा स्पेशलिस्ट बल्लेबाज हैं, जो ऑफ स्पिन गेंदबाजी भी करते हैं. 

हनुमा विहारी जब बॉलिंग करने आए तो ऑस्ट्रेलिया का स्कोर बिना विकेट खोए 103 रन हो चुके थे. विहारी ने पहले ओवर में नौ रन दिए. अगला ओवर जसप्रीत बुमराह ने फेंका. उन्होंने एरॉन फिंच को एलबीडब्ल्यू कर भारत को पहली कामयाबी दिलाई. इसके बाद विहारी को बॉलिंग से हटा लिया गया. 

हनुमा विहारी को दूसरी बार 48 ओवर के बाद गेंद सौंपी गई. तब ऑस्ट्रेलिया का स्कोर दो विकेट पर 134 रन था. हनुमा विहारी ने पारी 49वां ओवर फेंका. उन्होंने दूसरी ही गेंद पर मार्कस हैरिस (70) को स्लिप पर कैच करवा दिया. यह गेंद करीब-करीब सीने की ऊंचाई तक उछली और हैरिस उसके सामने से बल्ला नहीं हटा पाए और अजिंक्य रहाणे ने बेहतरीन कैच ले लिया. 

जो रूट, कुक और करेन को भी आउट कर चुके 
मार्कस हैरिस, हनुमा विहारी के चौथे टेस्ट विकेट हैं. उन्होंने इससे पहले इंग्लैंड दौरे पर जो रूट, एलेस्टेयर कुक और सैम करेन को आउट किया था. 25 साल के विहारी 66 प्रथमश्रेणी में 22 और 64 लिस्ट ए में 16 विकेट ले चुके हैं. हनुमा विहारी का यह दूसरा टेस्ट मैच है.

Related Articles

Back to top button