Uncategorized

एक और बड़े फैसले से पहले बहुत बेचैन है गुरमीत राम रहीम, खाना-पीना और सोना भूला

यहां सुनारिया जेल में बंद डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम बहुत बेचैन और तनाव में है। पत्रकार छत्रपति हत्याकांड में शुक्रवार को आने वाले फैसले को लेकर गुरमीत के होश उड़े हुए हैं। उसकी दिनचर्या बदल गई है। वह न तो समय पर सो पा रहा और न ही खाना खा रहा। तीन दिन पहले मिलने आए परिवार से भी अच्छे ढंग से बात नहीं कर की।

सीबीआइ कोर्ट के फैसले को लेकर बहुत तनाव में आैर मायूस है डेरा सच्‍चा सौदा प्रमुख

सुनारिया जेल में सजा काट रहे गुरमीत से उसके अधिवक्ता गुरदास सिंह सलवारा ने बृहस्पतिवार को सुनारिया जेल में मुलाकात की और शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होने वाली पेशी को लेकर कुछ जानकारी दी। वरिष्ठ अधिवक्ता सलवारा दोपहर करीब ढाई बजे जेल में पहुंचे। करीब 20 मिनट अधिवक्ता ने बातचीत की। बताया जाता है कि राम रहीम अधिवक्ता से मुलाकात के दौरान काफी मायूस दिखा।

मां के सामने नम हो गई थीं आंखें

जेल सूत्रों के अनुसार सोमवार को राम रहीम से मिलने उसकी मां नसीब कौर समेत बेटा जसमीत, बेटी अमरप्रीत, बेटी चरणप्रीत परिवार के सदस्य जेल पहुंचे थे। परिवार के सदस्यों से मुलाकात के दौरान गुरमीत भावुक हो गया और उसके चेहरे पर उदासी भी साफ झलक रही थी। वह परिवार के सदस्यों से ठीक से बातचीत भी नहीं कर पाया। मां ने उसे सिर पर हाथ रखकर आशीर्वाद भी दिया।

जेल में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

सुनारिया जेल में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। जेल के आसपास और शहर के मुख्य आठ नाकों पर पुलिसकर्मी सख्त जांच पड़ताल के बाद ही लोगों को गुजरने दे रहे हैं। जेल परिसर के आसपास ड्रोन कैमरे और घोड़ा पुलिस के माध्यम से भी सुरक्षा व्यवस्था बनाई गई है। जेल परिसर के आस-पास तथा शहर में कुल आठ नाके बनाए गए हैं, जहां पर छह-छह पुलिसकर्मियों को जांच के लिए तैनात किया गया है।

Related Articles

Back to top button